Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार सीवानराज्यभर में जल जीवन हरियाली में जिले की रैकिंग पिछले पायदान पर

राज्यभर में जल जीवन हरियाली में जिले की रैकिंग पिछले पायदान पर

हिन्दुस्तान टीम,सीवानNewswrap
Sat, 10 Jul 2021 06:50 PM
राज्यभर में जल जीवन हरियाली में जिले की रैकिंग पिछले पायदान पर

पेज चार पर फ्लायर

दी जानकारी

रैकिंग सुधार के हुए कार्य की इंट्री एमआईएस पर करें

डीएम ने की जल जीवन हरियाली योजना की समीक्षा

फोटो संख्या - 1

कैप्शन - कलेक्ट्रेट के सभागार में जल जीवन हरियाली की समीक्षा बैठक में शामिल डीआरडीए समेत अन्य विभागों के अधिकारी व अन्य।

सीवान। हिन्दुस्तान संवाददाता

कलेक्ट्रेट के सभागार में शनिवार को जल जीवन हरियाली योजना, सात निश्चय, परिवहन योजना समेत विकास योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर बैठक हुई। इस दौरान जल जीवन हरियाली से जुड़ी योजनाओं की नियमित मॉनीटरिंग व संतोषजनक प्रगति नहीं पाए जाने वाले विभाग पर विशेष रूप से फोकस करने की बात कही गई। जल जीवन हरियाली अभियान का क्रियान्वयन प्रभावशाली तरीके से करने पर जोर दिया गया। कार्य में पारदर्शिता व गंभीरता सुनिश्चित करने की बात कही गई। डीएम अमित कुमार पांडेय ने जल जीवन हरियाली से संबंधित विभागों की समीक्षा की। कहा कि कार्य में तेजी लाने के साथ ही जो कार्य हुए हैं उसकी इंट्री एमआईएस में करें ताकि जिले की रैकिंग में सुधार हो। डीएम ने कहा कि पूरे राज्य में जल जीवन हरियाली में जिले की रैकिंग पिछले पायदान पर है, जिसमें सुधार लाने की जरूरत है। कहा कि रैकिंग में सुधार हो इसके लिए सभी विभाग के अधिकारी अभी से जुट जाएं। जल जीवन हरियाली में 13 विभागों से जुड़ी योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि डीआरडीए इसका नोडल है। किसी विभाग को कोई समस्या हो रही है तो विभागीय स्तर पर संपर्क करें। बैठक के क्रम में डीएम ने वरीय अधिकारियों के साथ आगामी पंचायत चुनाव को लेकर विचार-विमर्श किया। नवसृजित नगर पंचायत व नगर परिषद के विस्तारीकरण के बाद 283 पंचायतों में होने वाले पंचायत चुनाव समेत पूरे जिले में पंचायत चुनाव को लेकर चर्चा की गई।

बैठक में एडीएम रमण कुमार सिन्हा, डीडीसी दीपक सिंह, जिला भू अर्जन पदाधिकारी संजीव कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी राज कुमार गुप्ता, डीआरडीए निदेशक मृत्युजंय कुमार, नगर परिषद के ईओ राहुलधर दुबे, डीआरसीसी प्रबंधक सुनीता शुक्ला, मनरेगा डीपीओ दिलीप कुमार, डीआरडीए के वरीय लेखा पदाधिकारी राजीव रंजन व लेखा पदाधिकारी नृपेन्द्र कुमार समेत अन्य मौजूद थे।

epaper

संबंधित खबरें