DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीवान में तेज धूप से झु़लस रहा चेहरा

जिले में तेज धूप से लोग परेशान हैं। धूप से लोगों का चेहरा झुलस रहा है। इससे लोग घरों से बाहर निकलने में परहेज कर रहे हैं। लोग चाह रहे हैं कि सुबह-शाम ही बाहर के काम को निपटा लिया जाए। ताकि दोपहर में धूप से राहत मिल सके। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि शनिवार को तापमान और ज्यादा रहने की संभावना है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को पारा 43 डिग्री के आसपास हो सकता है। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 28 डिग्री पर रहा। यह तापमान मध्य रात के बाद रहा। शुक्रवार की दोपहर सबसे गर्म समय रहा। दोपहर में सुबह 11 बजे के आसपास हल्की बारिश हुई। उस समय आकाश में बादल छाए रहने से गर्मी से लोगों को थोड़ी राहत मिली। हालांकि बाद में फिर बादल हट गया। तेज रौशनी से लोग परेशान होने लगे। दोपहर में जरूरी होने पर लोग छतरी लगाकर या गमछा से चेहरा ढक कर बाहर निकल रहे हैं। फिर भी गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। भीषण गर्मी व तेज धूप से लोग एक माह से परेशान हैं। इधर शहर आए लोग जूस पीकर गर्मी से राहत पा रहे हैं। सबसे ज्यादा गन्ने का जूस लोग पी रहे हैं। इसके लिए दुकानों पर भीड़ दिख रही है। गर्मी से बीमार पड़ रहे हैं लोग तेज धूप व गर्मी से लोग बीमार भी पड़ रहे हैं। इसमें सबसे ज्यादा बीमार बच्चे हो रहे हैं। बच्चे डायरिया, टायफायड व बुखार से मुख्य रूप से पीड़ित हो रहे हैं। इस रोग से पीड़ित होने वाले बच्चों की संख्या सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में ज्यादा दिख रही है। अन्य लोग भी बीमार पड़ रहे हैं। लू लगने से पीड़ित लोग अस्पताल पहुंच रहे हैं। सदर अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. मो. इसरायल ने कहा कि गर्मी से बच्चों को बचाना आवश्यक है, गर्मी से बच्चों के साथ लापरवाही खतरनाक साबित हो सकती है। बारिश होने पर हो रही उमस तेज धूप के साथ कभी कभार बारिश हो रही है। जब बारिश हो रही है उस समय तक तो गर्मी से राहत मिल रही है। लेकिन जब बारिश खत्म हो रही है तो उसके बाद उमस भरी गर्मी से परेशानी हो रही है। ग्राफिक्स 40 डिग्री अधिकतम तापमान है जिले में 28 डिग्री न्यूनतम तापमान जिले में 43 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान होने की संभावना शहर में कई जगह जलजमाव सीवान। बारिश होने से शहर में कई जगह जलजमाव हो रहा है। इससे भी लोग परेशान हैं। शहर में पानी निकासी की समुचित व्यवस्था नहीं होने से सड़क पर ही पानी लग रहा है। शहर में एक दर्जन ऐसे स्थान हैं, जहां पर पानी लग रहा है। इसमें बबुनिया मोड़, सिसवन स्टैंड, राजेन्द्र पथ समेत अन्य कई सड़के शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Sewing face with sharp sunshine