DA Image
25 नवंबर, 2020|2:55|IST

अगली स्टोरी

निखती में सड़क पर धान की रोपनी कर जताया विरोध

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत स्वीकृत निखती कला गांव की दलित बस्ती और उत्तर टोला की ओर दो पार्ट में बनने वाली सड़क दो साल में पूरी नहीं हो सकी है। इस सड़क के महीनों से अधूरा रहने और बारिश के कारण कीचड़मय हो जाने से नाराज गांव के लोगों का गुस्सा गुरुवार को फुट पड़ा। करणी सेना के जिलाध्यक्ष और निखती कला निवासी रूपेश सिंह के नेतृत्व में लोगों ने सड़क पर ही धान की रोपनी करके विरोध जताया। लोगों का कहना था कि बारिश के मौसम में सड़क पूरी तरह से कीचड़मय हो गयी है। इसपर बने फिसलन से आने-जाने से लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। लेकिन इस सड़क को बनाने के प्रति न ठेकेदार ही कोई दिलचस्पी ले रहा है, न विभाग के लोग ही उनकी सुन रहे हैं। जबकि विभाग को अनुरोध पत्र रजिस्ट्री किया गया है। डीएम और बीडीओ को भी पत्र लिखकर अधूरे इस सड़क को बनवाने की मांग की गयी है। गांव के लोगों का कहना था कि जब तक यह सड़क बन नहीं जाती उनका विरोध जारी रहेगा। सूचना के अधिकार के तहत सड़क का निर्माण अब तक अधूरा रहने की जानकारी भी मांगी गई है।

डेढ़ किलोमीटर में मौजूद है यह सड़क

निखती कला गांव की यह डेढ़ किलोमीटर में मौजूद है। इस सड़क की प्रस्वीकृति की राशि 69 लाख 19 हजार 579 रुपये की है। अगस्त 2018 में इस सड़क को बनाने का काम शुरू हुआ था। लेकिन अब तक नहीं पूरा किया जा सका। ग्रामीण प्रद्युम्न सिंह, टूना सिंह, हरिशंकर सिंह, स्वामीनाथ सिंह और संजय सिंह आदि का कहना है कि संबंधित ठेकेदार (संवेदक) और विभाग की लापरवाही के कारण ही निखती कला गांव के लोग कीचड़मय और फिसलन युक्त हो चुके इस सड़क पर चलने और गिरने को मजबूर हैं। नाराज लोग दोषियों पर कार्रवाई की भी मांग कर रहे थे। इस सड़क का कुछ हिस्सा बहुत पहले पीसीसी हुआ है। इसकी गुणवत्ता पर भी लोग सवाल खड़ा कर रहे थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Protested by planting paddy on the road in Nikhti