DA Image
7 अगस्त, 2020|6:42|IST

अगली स्टोरी

दरौली में माले ने मनाया राज्यव्यापी विरोध दिवस

माले के राज्यव्यापी आह्वान पर प्रखंड के कृष्णपाली व डुमरहर में माले कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को राज्यव्यापी विरोध दिवस मनाया। कार्यकर्ता स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को बर्खास्त करने की मांग कर रहे थे। माले नेत्री मालती राम ने कहा कि नकारा स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को बर्खास्त किए बगैर स्वास्थ्य व्यवस्था में कुछ भी सुधार की उम्मीद पालना बेमानी है। कहा कि पूरे बिहार में कोरोना का संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है। इलाज के अभाव में लोग बेमौत मारे जा रहे हैं। उधर भाजपा-जदयू की सरकार चुनाव का खेल खेलने में मस्त है। उन्होंने कहा की छह महीने बीत गए लेकिन सरकार ने जांच, इलाज, रोजी व रोजगार किसी मामले में कोई काम नहीं किया। सरकार ने सब कुछ भगवान भरोसे छोड़ दिया है। बिहार में जांच देश के 19 राज्यों में सबसे कम है। बीमारी का फैलाव को देखते हुए अनुमंडल व जिला अस्पतालों में कोरोना के बेहतर इलाज और आईसीयू की व्यवस्था होनी चाहिए। मौके पर शकुंतला राजभर, बासमती देवी, लालबाबू पासवान, राकेश कुमार, राकेश शर्मा, चन्द्रमा राम, मुन्ना अंसारी, राजनाथ राजभर, रितिक कुमार थे।

स्वास्थ्य मंत्री का किया विरोध

नौतन। प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में माले ने बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के विरुद्ध 'विरोध दिवस' मनाया। माले नेत्री जिला पार्षद सोहिला गुप्ता ने कहा कि कोविड-19 ने बिहार के स्वास्थ्य मंत्री की पोल खोल कर रख दी है। पटना के एनएमसीएच व पीएमसीएच में मरीजों के लिए कोई उचित व्यवस्था नहीं है। माले कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय को बर्खास्त करने सहित सभी अनुमण्डल स्तरीय स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना के इलाज का प्रबंध करने की मांग सरकार से की। इस दौरान खलवां में बालकेश्वर यादव, सेमरिया में राजेश कुशवाहा, मुरारपट्टी में मदन यादव, बसदेवा में दीनदयाल बीन, सागरा में बीडीसी ओवरसियर साह, नौतन में शिवरातो देवी व ऊषा देवी, अंगौता में मुखिया सभापति देवी व शास्त्री राम, गंभीरपुर में महेश यादव, मठियां में सुदामा राम के नेतृत्व में विरोध दिवस मनाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Male celebrated statewide protest day in Darauli