DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  सीवान  ›  कोराना संक्रमण: सेनेटाइजेशन की हो रही खानापूर्ति

सीवानकोराना संक्रमण: सेनेटाइजेशन की हो रही खानापूर्ति

हिन्दुस्तान टीम,सीवानPublished By: Newswrap
Fri, 30 Apr 2021 06:30 PM
कोराना संक्रमण: सेनेटाइजेशन की हो रही खानापूर्ति

पेज तीन की लीड

बदतर व्यवस्था

शहर के कई वार्ड व मोहल्ले में अब-तक सेनेटाइजेशन की शुरुआत नहीं हुई है

शहरी क्षेत्र में बढ़ता जा रहा संक्रमण का खतरा

नगर परिषद के रवैये में सुधार नहीं हो रहा है

01 लाख 60 हजार रुपये में पटना से खरीदारी

22 नई मशीनें खरीदी गई है सेनेटाइज के लिए

फोटो संख्या - 5

कैप्शन - शुक्रवार को शहर के राजवंशी नगर में सेनेटाइज करता कर्मी।

सीवान। हिन्दुस्तान संवाददाता

नगर परिषद क्षेत्र में दिन ब दिन कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। बावजूद नगर परिषद के रवैये में सुधार नहीं हो रहा है। कहने को तो पिछले एक सप्ताह से नगर परिषद क्षेत्र में सेनेटाइज करने का कार्य चल रहा है। लेकिन आलम यह है कि आधे से अधिक वार्डो में अबतक सेनेटाइज करने का कार्य शुरू भी नहीं हो सका है। शहरवासियों का कहना है कि नगर परिषद में धाक रुखने वाले वार्ड पार्षदों के मोहल्ले को सेनेटाइज करने में प्राथमिकता दी जा रही है। वहीं जो वार्ड पार्षद सीधे-सादे है, उनके वार्ड में लोग पार्षद से लेकर नगर परिषद के कार्यालय में जाकर सेनेटाइज कराने की गुहार लगा रहे है, लेकिन अनसुनी कर दी जा रही है। सेनेटाइज करने में नगर परिषद का पूरा ध्यान वीआईपी मोहल्ले, आलाधिकारी व प्रमुख इलाके पर केन्द्रित रह रहा है। इस कारण से आम आदमी के मकान व मोहल्ले सेनेटाइजेशन से पूरी तरह से दूर है। इधर, नगर परिषद की चैयरमैन सिंधु सिंह ने बताया कि नगर परिषद क्षेत्र को युद्धस्तर पर सेनेटाइज करने का कार्य चल रहा है। जबतक पूरी तरह से कोरोना महामारी खत्म नहीं हो जाती सेनेटाइज करने का कार्य जारी रहेगा। नए मशीनों से सेनेटाइज किया जा रहा है। पुराने मशीन जो खराब हो गए है, उनकी मरम्मत कराई जा रही है।

पहले चरण में दो हजार लीटर की खरीदारी

नगर परिषद के अनुसार पहले चरण में शहरी क्षेत्र को सेनेटाइज करने के लिए दो हजार लीटर हाइपो क्लोराईड की खरीदारी हुई है। एक लाख 60 हजार रुपये में पटना से खरीदारी की गई है। नगर परिषद सूत्रों के अनुसार, सेनेटाइज के कार्य में छह कर्मियों की टीम लगाई गई है। इसके अलावा दोपहर में वार्डो में सफाई करने वाले कर्मी अपने-अपने वार्डों को सेनेटाइज करने का कार्य कर रहे है। डिमांड पर अलग से कर्मियों को भेजा जाता है। इसके अलावा ट्रैक्टर से भी सेनेटाइज किया जा रहा है। सेनेटाइज करने के लिए 22 नई मशीनें खरीदी गई है। इसके अलावा पहले से भी नगर परिषद के पास सेनेटाइज मशीन है जो खराब हो गई है। कंप्लेन मिलने पर उसकी भी मरम्मत की जा रही है।

-------------

संक्रमण में भी महाराजगंज में नहीं हो रहा सेनेटाइजेशन

उदासीनता

लगातार बढ़ते संक्रमण से लोगों में डर

नगर पंचायत नहीं कर पाया है खरीदारी

महाराजगंज। एक संवाददाता

कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। दिन ब दिन लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। लेकिन शहर में सेनेटाइजेशन का कार्य शुरू नहीं हो सका है। शहरी विकास मंत्रालय द्वारा शहर के सभी वार्डों में सेनेटाइजेशन करने का आदेश दिया गया है, लेकिन यह आदेश प्रचार-प्रसार तक ही सिमट गये है। विभागीय कर्मचारियों की माने तो विभाग द्वारा सेनेटाइजेशन के लिए कोई पत्र कार्यालय को नहीं भेजा गया है। चारों तरफ कोरोना को लेकर लोगों में भय व्याप्त होने और लगातार बढ़ रहे संक्रमितों की संख्या के बावजूद नगर पंचायत प्रशासन इसके प्रति उदासीन बना हुआ है। जानकार यह भी बताते हैं कि महाराजगंज नगर पंचायत में केमिकल की खरीदारी नहीं होने के कारण सेनेटाइजेशन का कार्य बाधित है। नगर पंचायत के इओ व नपं के अध्यक्ष के बीच चल रही वर्चस्व की लड़ाई में यह भी मामला लटका पड़ा है। विभाग का पत्र नहीं मिलने और केमिकल की खरीद नहीं होने के कारण कार्य बाधित है। शहर के विभिन वार्डों में भले ही सेनेटाइजेशन का कार्य नहीं कराया जा रहा हो, लेकिन सरकारी दफ्तरों पर यह कार्य कराया जा रहा है। शहर के बैंक, प्रखंड, अंचल कार्यालयों आदि दफ्तरों में सेनेटाइजेशन कराया गया है। शहर में सेनेटाइजेशन नहीं किया गया और दफ्तरों में किया गया। जब ऐसे सवाल अधिकारियों से की गई तो उन्होंने बताया कि गत वर्ष के बचे केमिकल से दफ्तरों में सेनेटाइजेशन कराया जा रहा है। इस सम्बंध में नगर पंचायत के इओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि केमिकल उपलब्ध होने के साथ ही सेनेटाइजेशन का कार्य प्रारम्भ कर दिया जाएगा।

---------------

कोराना काल: मैरवा में नहीं हो रहा सेनेटाइजेशन

तैयारी नहीं

गांव में रविवार से होगा सेनेटाइजेशन का कार्य

नगर क्षेत्र में सेनेटाइजेशन की नहीं हो रही तैयारी

मैरवा। एक संवाददाता

कोरोना की दूसरी लहर के बढ़ते प्रभाव के बीच सेनेटाइजेशन नहीं हो रहा है। अब तक नगर में सार्वजनिक स्थान के क्षेत्र को सेनेटाइज नहीं किया गया है। नगर पंचायत इसको लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है। नगर पंचायत द्वारा दूसरी लहर के दौरान अब तक सेनेटाइजेशन को लेकर कोई तैयारी शुरू नहीं हुई है। नगर में बीस से अधिक एक्टीव मरीज हैं। संक्रमण वाले क्षेत्र में भी सेनेटाइजेशन को लेकर प्रशासन उदासीन रवैया अपना रहा है। मझौली चौक स्थित अस्थायी बस पड़ाव, स्टेशन चौक, सब्जी मंडी समेत बाजार को अब तक सेनेटाइज नहीं किया जा सका है। पिछले साल नगर पंचायत द्वारा महंगे केमिकल की खरीद पर सवाल खड़ा हुआ था। इसी कारण केमिकल खरीद में देरी की बात बताई जा रही है। सेनेटाइजेशन नहीं होने से भीड़ वाले क्षेत्र समेत कई स्थान पर संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। पंचायत में सेनेटाइजेशन को लेकर बीडीओ ने शुक्रवार को निर्देश जारी किया है। रविवार से गांव के भीड़ वाले क्षेत्र को सेनेटाइज किया जा सकता है। नगर व ग्रामीण क्षेत्र में सौ से अधिक मरीज मिल चुके हैं। मरीज की संख्या लगातार बढ़ रही है। प्रशासन द्वारा छिड़काव में देर किये जाने पर लोग सवाल उठा रहे हैं।

संबंधित खबरें