DA Image
Tuesday, November 30, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार सीवानबिजली कंपनी बकाया वसूली को लेकर चलाएगा अभियान

बिजली कंपनी बकाया वसूली को लेकर चलाएगा अभियान

हिन्दुस्तान टीम,सीवानNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 07:30 PM
बिजली कंपनी बकाया वसूली को लेकर चलाएगा अभियान

होगी कार्रवाई

3 करोड़ के लक्ष्य के अनुपात में डेढ़ करोड़ का राजस्व

बीस हजार उपभोक्ताओं का कट सकता है कनेक्शन

मैरवा। एक संवाददाता।

क्षेत्र में बिजली कंपनी के राजस्व में पिछले दो माह से भारी कमी आयी है। बकाया वसूली नहीं होने से राजस्व कम हुआ है। दो माह से बिजली का बिल पचास फीसदी कम जमा हो रहा है। वसूली को लेकर सोमवार से विशेष अभियान चलेगा। दो माह से अधिक का बकाया रखने वाले उपभोक्ताओं का कनेक्शन काटा जायेगा। पावर सब स्टेशन के क्षेत्र में लगभग 20 हजार से अधिक उपभोक्ताओं का कनेक्शन कटने वाला है। राजस्व कम होने पर सीवान डिवीजन कार्यालय में बैठक के बाद वसूली को लेकर सख्ती बरतने का निर्णय लिया गया है। वसूली को लेकर बिजली कंपनी द्वारा पंचायत में एक टीम का गठन किया जा रहा है। दीपावली और छठ को लेकर बिजली कंपनी के द्वारा वसूली को लेकर सख्ती से राहत दी गई थी। बिजली कनेक्शन काटे जाने के बाद जुर्माना के साथ राशि की वसूली हो सकती है। मैरवा पावर सब स्टेशन के क्षेत्र में लगभग 36 हजार बिजली उपभोक्ता है। जिसमें से 20 हजार से अधिक उपभोक्ताओं पर बकाया है। नगर क्षेत्र में 4800 उपभोक्ता है। जिसमें लगभग 2500 से अधिक उपभोक्ताओं ने दो माह से अधिक समय से बिल नहीं जमा किया है। दो माह पूर्व तक बिजली कंपनी प्रति माह लगभग तीन करोड़ रुपये बिजली बिल के रूप में जमा कर रही थी। सितंबर के बाद से राजस्व में पचास फीसदी से अधिक की कमी दर्ज हुई है। अब लगभग एक करोड़ के आस पास जमा हो रहा है। नगर क्षेत्र में बिजली का यूनीट रेट अधिक होने से कंपनी को सबसे ज्यादा राजस्व मिलता है। नगर क्षेत्र से बिजली कंपनी को प्रतिमाह एक करोड़ साठ लाख रुपया जमा हो रहा था। अब पचास लाख तक पहुंचने लगा है। जिसके बाद बिजली कंपनी के वरीय पदाधिकारियों ने वसूली को लेकर अभियान चलाने का निर्देश दिया है। इस संबंध में एसडीओ राजीव रंजन ने कहा कि बिजली कंपनी के राजस्व में बहुत कमी आयी है। दो माह से अधिक का बकाया रखने वाले उपभोक्ता का कनेक्शन काटने का निर्देश है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें