DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  सीवान  ›  मिश्रवली में बन रहा जिले का पहला राजकीय आईटीआई
सीवान

मिश्रवली में बन रहा जिले का पहला राजकीय आईटीआई

हिन्दुस्तान टीम,सीवानPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 06:50 PM

मिश्रवली में बन रहा जिले का पहला राजकीय आईटीआई

युवा के लिए

कॉलेज

ग्रामीण क्षेत्र के छात्रों को पढ़ाई की मिलेगी सुविधा

20 करोड़ की लागत से कई खंड में बन रहा कॉलेज

जीरादेई। एक संवाददाता

देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद के पैतृक गांव जीरादेई को एक गौरवशाली धरोहर प्राप्त होने जा रहा है। राजेन्द्र बाबू के पैतृक जमीन तितरा के मिश्रवली गांव में बिहार सरकार द्वारा राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का निर्माण कराया जा रहा है। बिहार सरकार के भवन निर्माण विभाग द्वारा मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के अंतर्गत लगभग 20 करोड़ की लागत से आईटीआई कॉलेज का निर्माण कराया जा रहा है। कॉलेज में छह खंड में भवन का निर्माण हो रहा है। जिसमें अलग-अलग ट्रेड की पढ़ाई के साथ-साथ प्रशिक्षण दिया जाएगा। एक खंड में बन रहे तीन मंजिल भवन में छात्रों की पढ़ाई व प्रशिक्षण दिया जाएगा। कैंटीन, स्टाफ क्वार्टर, प्रिंसिपल कक्ष सहित कई खंड में भवन का निर्माण हो रहा है। आईटीआई कॉलेज का निर्माण पटना के साई हाइवे एण्ड बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कराया जा रहा है। जिले का यह पहला राजकीय आईटीआई कॉलेज होगा जो देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद के पैतृक जमीन पर बन रहा है। कॉलेज के निर्माण से सबसे ज्यादा लाभ देहात क्षेत्र से आने वाले छात्र- छत्राओं को होगा। जिन्हें टेक्निकल पढ़ाई करने के लिए राज्य के साथ-साथ देश के विभिन्न जिलों में जाना पड़ता था। लगभग 15 एकड़ में बन रहे इस कॉलेज में छात्रों के प्रयोग में आने वाली सभी मूलभूत सुविधा प्राप्त होगी। कॉलेज में छात्रों के लिए हॉस्टल का निर्माण कराने के लिए भवन निर्माण विभाग ने राज्य सरकार से आग्रह किया है। कॉलेज में मुख्यरूप से इलेक्ट्रिशियन, फिटर, वेल्डर, मैकेनिकल सहित कई ट्रेडों की पढ़ाई व प्रशिक्षण होगा। भवन निर्माण कर रहे साइड इंचार्ज निरंजन कुमार ने बताया कि इसी साल अगस्त माह में भवन निर्माण के कार्य को पूरा करने का लक्ष्य था। लेकिन, दो वर्षों से लॉकडाउन की स्थिति से निर्माण कार्य मे थोड़ा विलम्ब हुआ है। लेकिन कार्यकारी एजेंसी का दावा है कि अगले साल के वित्तीय वर्ष तक भवन निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

-------------------------------------------------------------------

संबंधित खबरें