DA Image
24 नवंबर, 2020|12:39|IST

अगली स्टोरी

नलकूप से नहीं निकल रहा पानी

नलकूप से नहीं निकल रहा पानी

पिपराही प्रखंड के मोहनपुर गांव में दोनों नलकूप के बन्द रहने से क्षेत्र के किसानों को सिंचाई के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ता है। फसल की सिंचाई के लिए किसान निजी पंपसेट पर निर्भर है। सरकारी नलकूप के बन्द रहने से किसान महंगे दर पर डीजल व केरोसिन खरीद कर किसी तरह सिंचाई करते हैं। विभागीय उदासीनता के चलते दोनों नलकूप वर्षों से बन्द पड़ा हुआ है। क्षेत्र के किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए इस गांव में दो नलकूप को स्थापित किया गया। विभाग द्वारा दोनों नलकूप को संचालित करने के लिए बिजली ट्रांसफार्मर लगाया गया। लाखों रुपए खर्च कर नाला निर्माण भी कराया गया। किन्तु नलकुप के बंद रहने से किसानों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। इस क्षेत्र में सैकड़ो एकड़ भूमि में धान,गेहूं तथा गन्ना की खेती की जाती है। सिंचाई के अभाव में फसलें बर्बाद हो जाती हैं। दोनों नलकूप बागमती पुरानी धारा के किनारे पर स्थापित है। नदी में पानी रहने के बावजूद नलकूप का संचालन नहीं होने से किसानों में असंतोष है। ग्रामीण त्रिभुवन झा ने बताया कि विभागीय लापरवाही के कारण यहां के किसानों को सिंचाई का लाभ नहीं मिल रहा है। जबकि बिजली की स्थिति यहां काफी अच्छी है। यहां की भूमि भी उपजाऊ है। यदि नलकूप को चालू कर दी जाए तो सैकड़ों एकड़ जमीन सिंचित किया जा सकता है। सिंचाई के अभाव में धान की फसल गंवा चुके किसान रबी फसल से उम्मीद लगाये बैठे हैं। रबी फसल के समय में बंद पड़े नलकूप को अगर चालू नही कराया गया तो इस फसल पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Water is not coming out of the tube