ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार सीतामढ़ीसड़क निर्माण का आश्वासन मिला तब ग्रामीणों ने शुरू किया मतदान

सड़क निर्माण का आश्वासन मिला तब ग्रामीणों ने शुरू किया मतदान

सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...

सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
1/ 4सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
2/ 4सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
3/ 4सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
4/ 4सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर...
हिन्दुस्तान टीम,सीतामढ़ीSun, 26 May 2024 12:45 AM
ऐप पर पढ़ें

सीतामढ़ी। शिवहर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत रीगा विधान सभा क्षेत्र के बेला सहबाजपुर पंचायत स्थित मध्य विघालय बेला बूथ संख्या 241 से जुड़े वोटरों ने वर्षो से जर्जर पडे़ सड़क व नाला निर्माण को लेकर मतदान का बहिष्कसार पर अडे़ रहे। इस बूथ पर दोपहर के 12:30 तक एक भी मत नहीं पडे़ थे। हालांकि स्थानीय प्रखंड पदाधिकारियों द्वारा सुबह से ही मतदान बहिष्कार को समाप्त कराने को लेकर मशक्कत किया जा रहा था, लेकिन ग्रामीण वोट बहिष्कार पर अड़े रहे। इसकी सूचना पाकर जिला निर्वाचन अधिकारी सह डीएम सीतामढ़ी रिची पांडेय व एसपी मनोज कुमार तिवारी दलबल के साथ बेला गांव पहुंचकर जल्द ही सड़क निर्माण की दिशा में आवश्यक पहल किये जाने का आश्वासन देकर तथा लोगों को समझाबुझाकर करीब एक बजे मतदान शुरु कराया। इधर ग्रामीणों का कहना था कि वे विगत 15 वर्षो से इस जर्जर सड़क को झेल रहे है। बाढ़ के पानी का तो सामना करना ही पड़ता है, वहीं आये दिन दुर्घटनाए होती रहती है। बीमारी हालत में मरीजों को यहां से बाहर ले जाने में भी कफी कठिनाई होती है। ग्रामीण राजीव कुमार, नरेन्द्र महतो, गुड्डू कुमार आदि ने बताया कि विगत 15 वर्षो से स्थानीय अधिकारियों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों द्वारा सड़क निर्माण को लेकर सिर्फ आश्वासन ही मिलता रहा है। मौके पर पूर्व विधायक अमित कुमार टून्ना ने भी ग्रामीण मतदाताओं के बीच जाकर वोट के महत्व समझाते हुए इसके बहिष्कार को समाप्त करने का आग्रह किया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।