DA Image
18 जनवरी, 2020|11:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

42 चिकित्सा शिविर में 1365 मरीजों का हुआ इलाज

जिले के 16 प्रखंडो में आयी बाढ़ से पीड़ित मरीजों के आकस्मिक इलाज और उपचार के लिए 42 विशेष चिकित्सा शिविर लगाये गये हैं। जिसमें प्रतिनियुक्त चिकित्सक, आयुष चिकित्सक, एएनएम व आशा के सहयोग से अबतक 1365 मरीजों का उपचार किया गया है।

सिविल सर्जन डॉ. रबिन्द्र कुमार ने बताया कि अब तक किसी मरीज को इलाज के लिए बाहर भेजने की नौबत नहीं आयी है। जिला स्वास्थ्य समिति के सौजन्य से गठित 215 सर्वेक्षण दल द्वारा कराये गये आंकलन के अनुसार 360 गर्भवती महिलाओं का प्रसव निकट है। उस पर नजर रखने के निर्देश दिये गये हैं। वहीं प्राप्त सूचना के अनुसार अब तक 20 गर्भवती महिलाएं पीएचसी में एडमिट हुईं हैं। दो सुरक्षित प्रसव कराये गये हैं। साथ ही दो कमजोर और अपरिपक्व नवजात शिशु को एसएनसीयू में भर्ती कराया गया है। सिविल सर्जन ने बताया कि युद्धस्तर पर राहत और बचाव कार्य चलाये जा रहे। सर्वेक्षण के अनुसार 50 गांव में महामारी की संभावनाओ के संकेत मिलें है। जिसमें चिन्हित 25 गांवो में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया गया है। वहीं 53 में ब्लीचिंग पाउडर उपलब्ध करा दिया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Treatment of 1365 patients in 42 medical camps