DA Image
24 नवंबर, 2020|3:14|IST

अगली स्टोरी

रेल की सुविधा के लिए आज भी तरस रही शिवहर क्षेत्र की आबादी

default image

शिवहर जिले के लोगों की आंखों में रेल का सपना आज भी अधूरा है। शिवहर होकर रेल सेवा शुरू होने का सपना संजोये-संजोये यहां के लोगों की आंखें अब पथराने लगी हैं। आजादी के बाद से ही यहां के लोग रेल का सपना देख रहे हैं। लेकिन वह आज तक पूरा नहीं हो सका है।

शिवहर विधान सभा क्षेत्र सहित पूरे शिवहर के लोगों को वर्षों से रेलवे की सुविधा से महरूम रहने का दर्द टीस मार रहा हैं। शिवहर को रेल सेवा से जोड़ने के लिए रेल लाइन परियोजना का शिलान्यास हुए करीब बाहर साल से अधिक बीत गए। लेकिन धरातल पर निर्माण आज तक नहीं शुरू हो सका है।

अमूमन, सभी चुनाव में यहां के मतदाताओं को शिवहर को रेल सेवा से जोड़ने का हसीन सपना दिखाया जाता हैं। वर्तमान चुनाव में भी यह मुद्दा हर दल और प्रत्याशियों की ओर से पूरजोर ढंग से उठाया जा रहा है। शिवहर सूबे का पहला ऐसा जिला है,जो आज तक रेल सुविधा से नहीं जुड़ सका हैं। इसके आसपास के क्षेत्रों से होकर भी रेल नहीं गुजरती हैं। यहां के लोगों का मानना हैं कि रेल सेवा एवं आवागमन की सुविधाओं के अभाव में ही यह क्षेत्र विकास के क्षेत्र में पिछड़ा हुआ हैं। रेल सेवा शुरू होने तथा आवागमन की सुविधाओं का विकास होने से इस क्षेत्र में खुशहाली आएगी। साथ ही यहां के लोगों को दूर आने-जाने में होने वाली परेशानी खात्म हो जाएगी।

2007 में ही हुआ रेल लाइन का शिलान्यास: पूरे शिवहर संसदीय क्षेत्र सहित शिवहर जिले को रेल लाइन से जोड़ने के लिए वर्ष 2007 में सीतामढ़ी- बापूधाम मोतिहारी भाया शिवहर रेल लाइन का शिलान्यास तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद ने शिवहर में किया था। उस समय इस रेल लाइन का निर्माण 204 करोड़ की लागत से कराये जाने को मंजूरी दी गयी थी। 76.7 किलोमीटर लंबी इस रेल लाइन में कुल 10 स्टेशन का निर्माण कराये जाने की योजना है इसमें दो जंक्शन, पांच क्रांसिंग स्टेशन तथा तीन हॉल्ट स्टेशन शामिल हैं।

नया स्टेशन शिवहर लोक सभा क्षेत्र के शिवहर,पताही, ढाका, गजपुर तथा रेवासी में बनाया जाना हैं। जबकि हॉल्ट स्टेशन चिरैया, सुगिया कटसरी वं धनकौल में स्थापित किऐ जाने का प्रस्ताव है। सीतामढ़ी-बापूधाम भाया शिवहर रेल लाइन शिवहर लोकसभा क्षेत्र के बीचो-बीच होकर बनाये जाने का प्रस्ताव हैं।

यह रेल लाइन इस लोकसभा क्षेत्र के चिरैया, ढाका, शिवहर, बेलसंड व रीगा विधान सभा क्षेत्र होकर होकर गुजरनी है। इसका काम पूरा होने पर इन क्षेत्रों का आपस में जुड़ाव रेल लाइन से हो जाएगा। जिससे आवागमन सुविधाओं का विस्तार होगा तथा विकास के नये आयम शुरू होंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The population of Shivhar region still yearn for the convenience of rail