ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार सीतामढ़ीआजादी के बाद से चचरी पुल के सहारे मतदान केंद्र जाकर डाल रहे वोट

आजादी के बाद से चचरी पुल के सहारे मतदान केंद्र जाकर डाल रहे वोट

परसौनी, एसं। आजादी के 75वें साल बाद भी चचरी पुल के सहारे नदी पार

आजादी के बाद से चचरी पुल के सहारे मतदान केंद्र जाकर डाल रहे वोट
हिन्दुस्तान टीम,सीतामढ़ीSun, 26 May 2024 12:30 AM
ऐप पर पढ़ें

परसौनी, एसं। आजादी के 75वें साल बाद भी चचरी पुल के सहारे नदी पार कर मतदान केंद्र पहुंचकर वोट डालने जाने का दर्द आज भी दलित परिवार को चुभता है। क्षेत्र के देमा पंचायत अंतर्गत मुसहरी गांव के दलित बस्ती अनुसूचित जाति कॉलनी वार्ड संख्या एक बागमती पुरानी धार नदी के उसपर बसा हुआ है। जिसमे करीब ढाई सौ परिवार रहता है। जिसके आवागमन का एक मात्र सहारा नदी में चचरी पुल है। हालांकि चुनाव से पूर्व लोगो ने मतदान का बहिष्कार करने का निर्णय लिया था। लेकिन कुछ समाजसेवी व जनप्रतिनिधियों के मान मनौती के बाद वोट डालने को राजी होते है। हालांकि शनिवार को भी यही हुआ था। इस वस्ति के फुदन पासवान, राजेन्द्र पासवान, मरछिया देवी, सिकिलिया देवी, फुदन सिंह आदि ने बताया कि लोकसभा, विधानसभा व पंचायत चुनाव से पूर्व सभी जनप्रतिनिधि पुल निर्माण का आश्वासन देकर वोट ले लेते है। उसके बाद पुल निर्माण की दिशा में कोई कार्य नही करते। जिसका टिस लोगो के बीच हमेशा रहता है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।