DA Image
23 सितम्बर, 2020|3:04|IST

अगली स्टोरी

धान की फसल को रोग से बचाएं

धान की फसल को रोग से बचाएं

जिले में बाढ़-बरसात से बचे धान की फसल अब लहलहा रही है। निचले इलाके से उंचे इलाकों में धान की फसल अच्छी दिख रही है। लेकिन, कुछ जगहों पर धान की फसल में झुलसा रोग का प्रकोप भी देखने को मिल रहा है। इससे बचाव के लिए कृषि वैज्ञानिकों ने कई सलाह दिए है।

कृषि वैज्ञानिक डॉ. रामईश्वर प्रसाद ने बताया कि स्वस्थ धान की फसल में उचित मात्रा में किसान यूरिया खाद का प्रयोग करें।वहीं धान की फसल में स्टीमबोरर कीट से बचाव के लिए काराटाफ हाइड्रो क्लोराइड 2.50ग्राम प्रति कट्ठा की दर से खाद व बालू में मिलाकर छिड़काव करें। धान की फसल में जीवाणु पर्ण अंगमारी (बीएलबी) रोग से बचाव के लिए कॉपर अक्सीक्लोराइड दो ग्राम एवं स्टेपटो माइसीन और टेटरा सइकीन एक ग्राम प्रति पांच लीटर पानी में मिला स्प्रे करें। सलाह 9631635622 पर संपर्क कर सकते हैं।