DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › सीतामढ़ी › अधिकांश जलाशयों पर लोगों का अतिक्रमण
सीतामढ़ी

अधिकांश जलाशयों पर लोगों का अतिक्रमण

हिन्दुस्तान टीम,सीतामढ़ीPublished By: Newswrap
Mon, 26 Jul 2021 06:01 PM
अधिकांश जलाशयों पर लोगों का अतिक्रमण

सरकारी तालाबों की जमीन पर स्थानीय लोगों द्वारा कब्जा किया जा रहा है। इससे तलाबों का क्षेत्रफल कम हो रहा है। यदि समय रहते इन तालाबों को संबंधित अधिकारियों द्वारा अतिक्रमण मुक्त नहीं कराया गया तो जलसंचय की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। अभी तक तालाबों का जीर्णोद्धार नहीं किए जाने से दर्जनों तालाब का अस्तिव मिट चुका है। सैकड़ों तालाब का अस्तित्व संकट में है। बेलसंड में चार तालाब धीरे-धीरे भर दिया गया। डुमरा प्रखंड के बाजितपुर में एक सरकारी तालाब को भरकर स्थानीय लोगों द्वारा अतिक्रमण कर लिया गया है। चोरौत के चोरौत हाईस्कूल के समीप भगतजी पोखड़ की जमीन पर अवैध रूप से अतिक्रमण कर दुकान-झुग्गी झोपड़ी बना लिए गए हैं। इसी तरह विभिन्न गांवों के बीच अधिकांश तालाब का क्षेत्रफल कम होता जा रहा है। जिससे जलसंचय नहीं हो रहा है। इसके फलस्वरूप गर्मी के दिनों में जलसंकट की स्थिति उत्पन्न हो जा रही है।

संबंधित खबरें