DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  सीतामढ़ी  ›  आम, लीची, मूंग व हरी सब्जियों पर यास की मार
सीतामढ़ी

आम, लीची, मूंग व हरी सब्जियों पर यास की मार

हिन्दुस्तान टीम,सीतामढ़ीPublished By: Newswrap
Sun, 30 May 2021 04:50 PM
आम, लीची, मूंग व हरी सब्जियों पर यास की मार

शिवहर | हिन्दुस्तान प्रतिनिधि

चक्रवाती तूफान यास जिले में किसानों पर कहर बनकर टूटा है। लॉकडाउन की मार से किसान तो परेशान थे ही इसी बीच उनकी रही-सही आस यास तूफान उड़ा ले गया। तूफान के कारण दो दिनों तक हुई मूसलाधार बारिश एवं तेज हवा से आम, लीची, मूंग तथा सब्जी की फसल को काफी नुकसान हुआ है। खेतों में पानी जमा हो जाने से मूंग की फसल लगभग बर्बाद हो गई। वही अन्य दलहन फसल सहित मक्का की फसल को भी काफी नुकसान हुआ है। कुल मिलाकर तूफान के कारण जिले में दो दिनों तक तेज आंधी एवं बारिश में किसानों को सबसे अधिक नुकसान पहुंचाया है। इस बार वैसे भी आम एवं लीची का फल पिछले वर्ष की तुलना में कम लगा था। लेकिन उसमें भी यास तूफान से ने रही सही कसर को पूरा कर दी है। तेज हवा के कारण आम एवं लीची के फल झरकर गिर गए। वहीं पेड़ को भी नुकसान हुआ है। जिले में 60 फीसदी से अधिक मूंग तथा 30 से 35 प्रतिशत आम, लीची तूफान से बर्बाद हो गया। आफत बनकर आई तूफान से किसान औधे मुंह गिरे है। केला एवं तरबूज की खेती को भी काफी नुकसान हुआ है। बड़ी संख्या में केले के पौधे गिर गए। खेतों में लगे कद्दू, नेनुआ, टमाटर, करैला, परवल आदि सब्जी की फसलें भी पानी में डूबने से बेकार हो गए। किसानों के लिए क्रैश क्रॉप के रूप में सब्जी की खेती को माना जाता है। लेकिन पानी में डूब कर बर्बाद होने से किसान मायूस हैं।

संबंधित खबरें