DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमकर बरसे बादल, झील में तब्दील हुई सड़क

जिले में शुक्रवार की शाम जमकर बारिश हुई। इससे शहर की सड़कें झील में तब्दील हो गई। बारिश होने के साथ ही मौसम सुहाना हो गया। लोगों को गर्मी से राहत भी मिली। वहीं खेत में लगी फसल को लाभ पहुंचेगा। जानकारी के अनुसार, डुमरा, रून्नीसैदपुर, परसौनी, बेलसंड, पुपरी समेत विभिन्न प्रखंडों में जमकर बारिश हुई। वहीं, कुछ प्रखंडों में हल्की बारिश हुई। कृषि विज्ञान केंद्र, सीतामढ़ी के वरीय कृषि वैज्ञानिक राम ईश्वर प्राद ने बताया कि पांच अगस्त तक इसी तरह रूक-रूक कर बारिश होने की संभावना है। इससे उंचे इलाके में लगी धान की फसल व साग-सब्जी को काफी लाभ पहुंचेगा। उन्होंने बताया कि बारिश से अधिकतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। हवा सामान्य गति से चली। कहीं-कहीं 25 से 30 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चली। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार अगस्त माह में 211 एमएम बारिश होने की संभावना है। बीते जुलाई माह में 388 एमएम बारिश की संभावना व्यक्त की गई थे। लेकिन, उससे ज्यादा बारिश हुई। लगातार बारिश होने से आयी बाढ़ ने जिले में किसानों को काफी नुकसान पहुंचाया है। यदि फिर लगतार बारिश हुई तो नदियों के जलस्तर में वृद्धि के साथ बाढ़ की खतरा बढ़ जाएगा।

बारिश से सड़क पर जलजमाव:

बारिश से शहर से लेकर गांव तक सड़कों पर जलजमाव हो गया। इससे लोगों को आवागमन में परेशानी हुई। पानी निकासी नहीं होने के कारण शहर कई मुहल्ला में जलजमाव हो गया। बारिश के बाद निचले इलाके में जलजमाव के बीच रह रहे लोगों की परेशानी और बढ़ गई है। मच्छरों का प्रकोप बढ़ने के साथ संक्रमित बीमारी फैलने की आशंका बढ़ गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jamkar Barse cloud the road transformed into lake