DA Image
3 दिसंबर, 2020|1:07|IST

अगली स्टोरी

सीतामढ़ी के कई नए इलाकों में फैला बाढ़ का पानी

सीतामढ़ी के कई नए इलाकों में फैला बाढ़ का पानी

1 / 4लखनदेई, शिकाउ, रातो व मनुषमरा नदी के बाढ़ का पानी कई नये इलाकों में प्रवेश कर गया है। लखनदेई नदी का पानी शहर के कई मुहल्लों में घुस गया है। वहीं शिकाउ नदी का पानी बाजपट्टी प्रखंड के आधा दर्जन गांव में...

सीतामढ़ी के कई नए इलाकों में फैला बाढ़ का पानी

2 / 4लखनदेई, शिकाउ, रातो व मनुषमरा नदी के बाढ़ का पानी कई नये इलाकों में प्रवेश कर गया है। लखनदेई नदी का पानी शहर के कई मुहल्लों में घुस गया है। वहीं शिकाउ नदी का पानी बाजपट्टी प्रखंड के आधा दर्जन गांव में...

सीतामढ़ी के कई नए इलाकों में फैला बाढ़ का पानी

3 / 4लखनदेई, शिकाउ, रातो व मनुषमरा नदी के बाढ़ का पानी कई नये इलाकों में प्रवेश कर गया है। लखनदेई नदी का पानी शहर के कई मुहल्लों में घुस गया है। वहीं शिकाउ नदी का पानी बाजपट्टी प्रखंड के आधा दर्जन गांव में...

सीतामढ़ी के कई नए इलाकों में फैला बाढ़ का पानी

4 / 4लखनदेई, शिकाउ, रातो व मनुषमरा नदी के बाढ़ का पानी कई नये इलाकों में प्रवेश कर गया है। लखनदेई नदी का पानी शहर के कई मुहल्लों में घुस गया है। वहीं शिकाउ नदी का पानी बाजपट्टी प्रखंड के आधा दर्जन गांव में...

PreviousNext

लखनदेई, शिकाउ, रातो व मनुषमरा नदी के बाढ़ का पानी कई नये इलाकों में प्रवेश कर गया है। लखनदेई नदी का पानी शहर के कई मुहल्लों में घुस गया है। वहीं शिकाउ नदी का पानी बाजपट्टी प्रखंड के आधा दर्जन गांव में घुसा हुआ है। बाढ़ के पानी से जिले के सात प्रखंड प्रभावित है। सुरसंड, बाजपट्टी, पुपरी, चोरौत, परिहार, सोनबरसा, डुमरा के करीब 35 गांव प्रभावित हुआ है।

डुमरा के अमघटा गांव व सड़क पर पानी चढ़ गया है। बाजपट्टी-सीतामढी सड़क पर पानी चढ़ जाने से आवागमन अवरुद्ध है। मनुषमरा नदी का पानी एनएच 104 पर पमरा पुल के निकट बने डायवर्सन पर चढ़ गया है। वहीं एनएच 104 पर सीतामढ़ी-भिठामोड़ सड़क पर चार जगहों पर चढ़ गया है। एनएच 104 व बाजपटी-चोरौत एनएच 57 सी पर बाढ़ का पानी चढ़ा हुआ है। जिस कारण आवागमन बाधित हो गया है। बागमती नदी व अधवारा समूह के नदी के जलस्तर में कमी जारी है। बावजूद नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बाढ़ नियंत्रण कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार से ही बागमती व अधवारा समूह की नदियों का जलस्तर कम हो रहा है। बागमती नदी कटौझा में खतरे के निशान से 2.25 सेमी उपर बह रहा है। अन्य जगहों पर खतरे के निशान से नीचे आ गया है। इधर सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर पथ के बाजितपुर-जगदीशपुर पुल के समीप बना डायवर्सन का आधा हिस्सा पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है। अब क्षतिग्रस्त पुल से यात्री भरी बस व लोडिंग ट्रक का आवाजाही हो रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Flood waters spread in many new areas of Sitamarhi