DA Image
21 अक्तूबर, 2020|6:37|IST

अगली स्टोरी

भवन की कमी से खुले आसमान में खराब हो रहे उपस्कर

भवन की कमी से खुले आसमान में खराब हो रहे उपस्कर

एफआरयू पीएचसी पुपरी में भवन की कमी से हजारों रुपये मूल्य का उपस्कर खुले आसमान में रखा गया है। जिससे वह खराब हो रहा है। बुनियादी केंद्र से प्रसव कक्ष के स्थानांतरित होकर अस्पताल परिसर में आने की वजह से सभी उपस्कर को व्यवस्थित करना कठिन प्रतित हो रहा है। इस संबंध में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. रामाशंकर प्रसाद के बताया कि अस्पताल में पूर्व से भवन की कमी हैं। जिसे देखकर ही तत्कालीन डीएम डॉ. रंजीत कुमार सिंह ने प्रसव कक्ष का संचालन बुनियादी भवन में स्थापित करने का आदेश दिया था। किंतु बुनियादी भवन संचालिका द्वारा प्रसव कक्ष को हटाया गया। आनन- फानन में अस्पताल परिसर में क्षतिग्रस्त भवन को दुरुस्त कर प्रसव कक्ष स्थापित किया गया है। भवन की कमी को दूर करने के लिये वैकल्पिक रूप से शेड का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। क्षतिग्रस्त बेड व अन्य उपस्कर को मरम्मती के लिये बाहर रखा गया है। गौरतलब है कि पीएचसी में प्रतिदिन एक दर्जन गर्भवती महिलाओं का सुरक्षित रूप से प्रसव कराया जाता है।

मरीजों की रहती है भीड़, होगी परेशानी

पीएचसी में ईलाज के लिए मरीजों की भीड़ रहती है। अनुमंडल मुख्यालय होने की वजह से यहां पर चोरौत, पुपरी, नानपुर प्रखंड के गांव से काफी संख्या में मरीज रोज पहुंचते है। भवन की कमी की वजह से आने वाले मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। खासकर ग्रामीण व आर्थिक दृष्टि से कमजोर मरीज की परेशानी काफी बढ़ सकती है। उन्हें इलाज के लिए अधिक रुपये खर्च करने पड़ सकते है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Equipment falling in the open sky due to lack of building