DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  सीतामढ़ी  ›  बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर

सीतामढ़ीबच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर

हिन्दुस्तान टीम,सीतामढ़ीPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 02:30 PM
बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई पर जोर

सीतामढ़ी | हिन्दुस्तान प्रतिनिधि

कोरोना महामारी काल में कक्षा एक से 12 वीं तक के बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई को लेकर शिक्षा विभाग सक्रिय है। इसको लेकर प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ. रणजीत कुमार सिंह ने डीईओ, डीपीओ, बीईओ समेत बीआरपी, सीआरसी व शिक्षकों के साथ यूट्यूब लाइव के माध्यम से वर्चुअल परिचर्चा की। उन्होंने कोरोना काल में बच्चों के लिए ई लर्निंग के महत्व की चर्चा कर कहा कि अभी खाली समय में हम लोग इसका उपयोग व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर कंटेंट के माध्यम से बच्चों से जुड़ने का प्रयास करें। राज्य से जिला व जिला से प्रखंड तथा प्रखंड से सीआरसी व सीआरसी से शिक्षकों के माध्यम से बच्चों को ई लर्निंग विषयगत जानकारी देने का प्रयास करने को कहा गया। ताकि बच्चे अधिक से अधिक लाभान्वित हो सके। कोरोना काल में खासकर कक्षा एक से आठ के बच्चों के बाधित पढ़ाई को जारी रखने के लिए कहा कि जिन बच्चों के अभिभावक के पास स्मार्टफोन होगा उनका एक ग्रुप तैयार कर उनको व्हाट्सएप पर मटेरियल दी जाएगी। साथ ही उनको प्रेरित भी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि करोना काल में शिक्षा विभाग द्वारा ‘मेरा दूरदर्शन मेरा विद्यालय शैक्षणिक प्रसारण डीडी बिहार एवं अन्य चैनलों पर किया जा रहा है। इससे बच्चों को लाभान्वित कराने के लिए प्रेरित करने को कहा। साथ ही दीक्षा एप पर उपलब्ध ई लर्निंग ई लाइब्रेरी ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था का लाभ उठाने को कहा। निदेशक ने कहा कि पाठ्यपुस्तक के आधार पर पाठ बार अभ्यास के प्रश्न उत्तर भी दीक्षा पोर्टल पर उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि विद्यालय नेतृत्व विकास कार्यक्षेत्र में समाधान, स्वयं संगठन समुदाय शिक्षा के माध्यम से विकसित किया जा सकता है। इस कार्य योजना में परस्पर संवाद एक्शन लर्निंग प्रोजेक्ट द्वारा सभी शिक्षकों को अधिगम के माध्यम से बच्चों तक शिक्षा पहुंचाना है। निदेशक ने कहा कि भारत सरकार 2025 तक सभी को बुनियादी साक्षरता के तहत संख्या ज्ञान कराने के लिए कृत संकल्पित है। इसके लिए हम सबको मिलकर प्रयास करना होगा।

उन्होंने मुख्य रूप से दीक्षा एप व विद्या दान एप पर उपलब्ध कंटेंटो के माध्यम से बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने का सुझाव दिया। इस कार्यक्रम में राज्य कार्यालय के नेहा, सौरव, अभिषेक व अर्चना ने भी ई लनिंर्ंग शिक्षा पर विचार को रखा। वर्चुअल परिचर्चा में डीईओ सचिन्द्र कुमार, एसएसए डीपीओ अमरेन्द्र कुमार पाठक समेत सभी डीपीओ, बीईओ, बीआरपी, सीआरसीसी, साक्षरता के एसआरजी समेत शिक्षकों व शिक्षा सेवकों ने भाग लिया।

संबंधित खबरें