DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रावणी मेला में मढिया धाम जाने के लिए बाधित है सब रास्ते

जिले में श्रावणी मेला की तैयारी शुरू कर दी गई है। मंदिर परिसर की साफ-सफाई तेज कर दी गई। श्रद्धालुओें के आवागमन के लिए पथ को दुरस्त करने के लिए योजना बनायी जा रही है। लेकिन, बाढ़ के पानी से कई प्रखंड के दर्जनों गांव घिरे रहने के कारण वैकल्पिक रास्ते की तलाश कर रहे है। सोनबरसा के मढ़िया धाम के पुजा समिति के अध्यक्ष ने बताया कि बाढ़ और बरसात के दौरान मढि़या मंदिर के चौतरफा सभी प्रमुख मार्ग बाधित है। इसबार नेपाल के नूनथर पहाड़ से 65 किलोमीटर की दूरी का सफर करके जलाभिषेक के लिए आने वाले कांवरिया को भारी परेशानियो का सामना करना पर सकता हैं। मंदिर पूजा समिति का अध्यक्ष अवदेश कुमार ने बताया कि एनएच 77 पथ के परसा मोड़, जयनगर, गुरघुरा, मढि़या गांव लोहखर, सिंगवहिनी मधेसरा आदि पथों के बीच सड़क पुल पुलिया ध्वस्त हो चुका है। अध्यक्ष ने बताया कि ध्वस्त पथों का पहले रविवार से पूर्व मरम्मत के लिए जिला अधिकारी को आवेदन दिया गया है। उन्होंने मंदिर पर जाने आने वालों की सुविधा के लिये सड़को की मरम्मती का भरोसा दिलाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:All roads are interrupted for going to Mudhia Dham in Shravani Mela