DA Image
30 नवंबर, 2020|7:52|IST

अगली स्टोरी

सुरक्षा गार्ड होते तो बच सकती थी आदित्य की जान

default image

रोहतास। एक संवाददाता

रोहतास थाना क्षेत्र के डालमिया सीमेंट फैक्ट्री के सामने सूर्य मंदिर के पास सोन नदी में नहा रहे चार युवकों की टोली में आदित्य पासवान अचानक गहरे पानी मे चला गया। आदित्य को डूबते देख प्रत्यक्षदर्शियों व डालमिया कंपनी के सुरक्षा अधिकारियों को सूचना देते हुए तत्काल मदद मांगी। मृतक के पिता का आरोप है कि मंदिर परिसर में रहने वाले सुरक्षा गार्ड के नदारद रहने से बच्चे के खोजने में काफी विलंब हुआ। आरोप है कि ग्रामीणों ने डालमिया सीमेंट फैक्ट्री के सुरक्षा अधिकारी को भी इस तरह की घटना की जानकारी दी। लेकिन डालमिया सीमेंट फैक्ट्री में कार्यरत सुरक्षा अधिकारियों ने इसे अनभिज्ञता जता दी। सोन नदी में डूबे युवक को खोजने के लिए समहुता के पूर्व मुखिया मृत्युंजय सिंह व उसके साथियों ने नदी में छलांग लगा दी। स्थानीय गोताखोरों की मदद से नदी में जाल फेंका गया। इसके बाद उक्त युवक को बरामद किया गया। तब तक काफी देर हो चुकी थी। अस्पताल पहुंचने के बाद डॉक्टरों नेआदित्य पासवान को मृत घोषित कर दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Aditya 39 s life could have been saved had he been a security guard