अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रमा जैन बालिका स्कूल के छात्राएं दुर्गंध से छात्राएं परेशान

(युवा पेज के लिए)

संक्रमण का शिकार हो रहा है मवेशी अस्पताल का परिसर

सालों भर अस्पताल कैंपस में रहता पानी गंदे पानी का जमाव

सासाराम। एक संवाददाता

रमा जैन बालिका स्कूल के पीछे मवेशी अस्पताल के कैंपस में नाली का पानी सालों भर भरा रहता है। नाली के पानी जमा रहने से मवेशी अस्पताल संक्रमण का शिकार बना हुआ है। पास में स्कूल की छात्राएं नाली पानी से निकलने वाली दुर्गंध से परेशान हैं।

बताया जाता है कि शहर के धर्मशाला रोड स्थित मवेशी अस्पताल का हाल बुरा है। जल-निकास के अभाव में नालियों का पानी अस्पताल कैंपस में जमा होता है। नालियों के पानी का निकास नहीं है। सालों भर पानी जमा रहने से कैंपस झील में तब्दील हो गया है। दुर्गंध भी निकल रहा है। पानी से निकलने वाले दुर्गंध से अस्पताल कर्मी, अधिकारी व पास वाले स्कूल की छात्राओं के अलावा आसपास के मोहल्लेवासी परेशान हैं।

कहती है छात्राएं

रमाजैन बालिका स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा सोनी कुमारी, रानी कुमारी, रिंकी कुमारी, सौम्या, नैंसी आदि ने बताया कि मवेशी अस्पताल का कैंपस स्कूल के क्लास रूम के पीछे है। अस्पताल कैंपस में जमा नाली के पानी से निकलने वाली दुर्गंध से हमलोग बहुत परेशान हैं। हवा के साथ बदबू क्लास रूम में पहुंचती रहती है। नाक ढंकने पर भी बदबू से नहीं बच पाते हैं। कई छात्राओं को बदबू से उल्टी होने लगती है।

नालियों पर अतिक्रमण

मवेशी अस्पताल के किनारे से गुजरने वाली धर्मशाला रोड का मुख्य नाला अतिक्रमण की चपेट में है। नाला पर दुकानें लगी हुई हैं। कई अतिक्रमणकारियों ने तो नाली पर स्थायी दुकान बना ली है। नालियों के अतिक्रमण से इसकी समुचित सफाई नहीं हो पाती है। नालियों के खुले होने से कूड़ा-कचरा भी के दुकानदारों फेंक दिया जाता है। नाली अक्सर जाम रहता है। नाली के जाम रहने से पास के मवेशी अस्पताल का कैंपस नीचा होने से गंदा पानी वहीं चला जाता है। अस्पताल कैंपस बीमारी का घर बना हुआ है।

फोटो नंबर-3

कैप्शन- मवेशी अस्पताल कैंपस में जमा नाली का गंदा पानी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: