DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चमकी बुखार को महामारी घोषित करने की मांग की

भाकपा माले के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को प्रतिरोध मार्च निकाल चमकी बुखार की बीमारी को महामारी घोषित करने की मांग की। इसके साथ ही बच्चों की लगातार हो रही मौत की जिम्मेवारी लेते हुए केन्द्रीय व राज्य के स्वास्थ्य मंत्री से पद से इस्तीफा देने की मांग की। प्रतिरोध मार्च में माले के अलावा आइसा, इनौस, ऐपवा के कार्यकर्ता शामिल थे।

शहर के मवेशी अस्पताल निकला प्रतिरोध मार्च सदर अस्पताल, समाहरणालय, अनुमंडल कार्यालय, महिला कॉलेज, नगर एवं मुफस्सिल थाना होते हुए ओवरब्रिज चौराहा पर पहुंच कर सभा में तब्दील हो गया। सभा की अध्यक्षता इनौस सह माले नेता सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने की तथा सभा का संचालन आइसा जिलाध्यक्ष सुनील कुमार ने किया। सभा में माले के जिला सचिव प्रो. उमेश कुमार मो. सगीर, मनोज शर्मा, अशोक राय, राजकुमार चौधरी, महेश पासवान, सुखदेव सहनी, मिथिलेश कुमार,लोकेश राज, दीपक यादव, राजू झा, राम कुमार, आशिफ होदा आदि ने संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Urine fever demanded to be declared a pandemic