DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपीएससी : 116वां रैंक ला शौर्य ने गांव को किया गौरवान्वित

यूपीएससी : 116वां रैंक ला शौर्य ने गांव को किया गौरवान्वित

शेखोपुर गांव के अवकाश प्राप्त मेजर डॉ. जेएन सिंह के पुत्र शौर्य सुमन के यूपीएससी में 116 वां रैंक हासिल करने पर गांव में उत्सवी माहौल बना हुआ है। उनके बड़े पापा रत्नेश्वर कुमार सिंह उर्फ डाक बाबू अपनी पत्नी उषा देवी व दादी तारा देवी के साथ ग्रामीण रवि प्रकाश सिंह आदि ने हर्ष जताते हुये कहा कि शौर्य सुमन शुरू से ही मेधावी छात्र था। उसकी लगनशीलता को देख कर हर कोई कहते नहीं थकता था कि आगे चलकर शौर्य अपने परिवार का ही नहीं बल्कि पूरे गांव व समाज का नाम रोशन करेगा। बाद में शौर्य ने आईपीएस बनने की तमन्ना दिल में लिये पूरी मेहनत से तैयारी शुरू की। यह बताते हुये खुशी से बड़े पापा रत्नेश्वर कुमार सिंह की आंखें छलक आयी। उन्होंने कहा कि उसने अपना ही नहीं बल्कि पूरे परिवार का सपना साकार कर दिया। उसकी इस उपलब्धि से पूरे परिवार को गर्व महसूस हो रहा है। उन्होंने बताया कि शौर्य की प्रारंभिक पढ़ाई-लिखाई झारखंड के रामगढ़ से हुई। वह दो भाइयों में छोटा हैं। उनके बड़े भाई सौम्य सुमन भी बंगाल स्थित सेंट्रल बैंक में पीओ के रूप में कार्यरत हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UPSC: 116th Rank La Shaurya did the proud to the village