DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  समस्तीपुर  ›  गाड़ी साइड करने को लेकर हुआ था विवाद: एसपी

समस्तीपुरगाड़ी साइड करने को लेकर हुआ था विवाद: एसपी

हिन्दुस्तान टीम,समस्तीपुरPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 04:21 AM
गाड़ी साइड करने को लेकर हुआ था विवाद: एसपी

समस्तीपुर हिन्दुस्तान प्रतिनिधि

सीपीएम कार्यालय पर हुये हमला मामले में नया मोड़ आ गया है। मामले की जांच के बाद पुलिस ने पाया कि गाड़ी साइड करने को लेकर विवाद हुआ था। जिसमें झड़प हुई। इस संबंध में एसपी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। इसमें कहा है कि मामले की जांच के बाद पता चला कि गाड़ी साइड करने के सवाल पर विबाद हुआ था। हालांकि विधायक अजय कुमार की ओर से दर्ज करायी गयी प्राथमिकी में कहा गया है कि पन्द्रह से बीस लोगो ने उन पर हमला करने के साथ पार्टी कार्यालय पर पथराव किया। इस दौरान उनकी गाड़ी को भी क्षति ग्रस्त करने के साथ उनके बॉडीगार्ड को मारपीट कर जख्मी कर दिया। बॉडीगार्ड ने उन्हें किसी तरह बचाया। इस मामले में विधायक ने पहले चार लोगों को नामजद किया था। बाद में पुलिस को कॉल कर दो लोगों को निर्दोष बता नाम हटाने व किसी तरहि की कार्रवाई नहीं करने को कहा था। वहीं दूसरे पक्ष की ओर से दर्ज करायी गयी प्राथमिकी में कहा गया है कि शनिवार रात शहर के स्टेशन रोड स्थित कबीर आश्रम निवासी संजय कुमार प्रसाद के घर उनके भांजा राहुल कुमार उर्फ चुसनी की पत्नी के श्राद्धकर्म की तैयारी चल रही थी। एक रिश्तेदार कार से राहुल के पुत्र सात वर्षीय तेजस्वी को लेकर श्राद्ध कर्म के लिए आ रहा था। उसी क्रम में माकपा कार्यालय के सामने एक उजले रंग की चार पहिया वाहन बीच सड़क पर खड़ी थी। उसने साइड लेने के लिए हार्न बजाया तो वाहन चालक और विधायक के अंगरक्षक अनिल राम वाहन से उतर कर आग बबूला हो दूसरे वाहन पर सवार राहुल के रिश्तेदार को गाली देने लगे। इसका विरोध करने पर वाहन समेत सात वर्षीय बालक तेजस्वी को जबरन रोक लिया और धमकी दी। राहुल उर्फ चुसनी का साला उक्त वाहन से उतर कर किसी तरह भागते हुए घर आया और स्वजनों को पूरे घटना की जानकारी दी। सूचना मिलते ही राहुल अपने स्वजनों के साथ माकपा कार्यालय पहुंचा। जहां विधायक के अंगरक्षक और समर्थक उसे गाली गलौज करते हुए ईंट पत्थर चलाने लगे। किसी तरह जान बचाकर सभी लोग वहां से भाग निकले। इसके बाद विधायक के अंगरक्षक व 20-25 समर्थकों ने उसके घर आकर जमकर हंगामा किया। महिला समेत घर आए रिश्तेदारों को गाली देने के साथ मारपीट की और घर में तोड़फोड़ कर कई सामान को क्षतिग्रस्त कर दिया।

विधायक पर हमला मामले में दो गया जेल

समस्तीपुर हिन्दुस्तान प्रतिनिधि

शहर के मालगोदाम स्थित माकपा कार्यालय में शनिवार देर रात विभुतिपुर के विधायक अजय कुमार पर कथित हमला मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर कोर्ट भेजा। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार की पहचान नगर थाना क्षेत्र के कबीर आश्रम के लालबाबू राय के पुत्र राहुल कुमार उर्फ चुसनी और शेखटोली के मुनाजिर के रूप में हुई है। इस बाबत रविवार को विधायक अजय कुमार ने नगर थाना में आवेदन दिया था। एक आवेदन देकर पकड़े गए दो आरोपितों के अलावे मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जितवारपुर गांव के सोनेलाल ढाला निवासी राहुल कुमार समेत 15-20 अज्ञात को आरोपित किया। विधायक की निशानदेही पर पुलिस ने शेखटोली के राहुल कुमार को भी हिरासत में ले लिया था। पहचान नहीं होने पर पुलिस ने बंधपत्र पर उसे मुक्त कर दिया। बाद में विधायक अजय कुमार ने एसपी के दूरभाष पर कॉल कर बताया कि गलती से जितवारपुर के राहुल कुमार का नाम आवेदन में दे दिया गया। इसे गिरफ्तार नहीं किया जाए। नगर थाना के सब इंस्पेक्टर सुनील कुमार ने बताया कि विधायक की प्राथमिकी के आलोक में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं शेखटोली के राहुल कुमार को बंधपत्र पर मुक्त कर दिया गया है। गिरफ्तार आरोपितों को सोमवार न्यायिक हिरासत में जेल भेज गया है।

उजियारपुर में हमला मामले में एक गिरफ्तार

उजियारपुर। विभूतिपुर बिधायक अजय कुमार पर विगत 2 मई को उजियारपुर थाना क्षेत्र में हुए कथित हमला के आरोपी बाजिदपुर निवासी दीपनारायण सिंह के पुत्र अखिलेश कुमार सिंह को 28 दिन बाद मुफस्सिल थाना के मोरदिवा गांव से उजियारपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष विश्वजीत कुमार ने बताया कि बिधायक अजय कुमार ने एक बाइक पर सवार दो बदमाश पर हमला करने का आरोप लगाया था। थानाध्यक्ष ने बताया कि घटनास्थल से बरामद बाइक की छानबीन के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी घटना के बाद पं बंगाल के आसनसोल में छुपा हुआ था। दो रोज पहले ही वह अपनी ससुराल मुफस्सिल थाना के मोरदिवा गांव आया था। थानाध्यक्ष ने कहा कि आरोपी को न्यायालय भेज दिया गया।

संबंधित खबरें