DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आर्ट्स टॉपर के कॉलेज में संसाधनों की कमी

राज्य को आर्टस में टॉपर देने वाले बाघी पंचायत के चकहवीब गांव स्थित रामनन्दन सिंह जगदीप नारायण इंटर कॉलेज की स्थापना सात वर्ष पूर्व 2011 में हुई। प्रधानाचार्य प्रो. अभितेन्द्र कुमार ने बताया कि कॉलेज को जरुरी जांच पड़ताल के बाद 2013 में बीएसईबी बोर्ड से निबंधन एवं परीक्षा स्वीकृति मिली थी। कॉलेज का पहला बैच 2013-15 में शुरू हुआ था। इस बार उसका चौथा बैच है। कॉलेज में संसाधन की काफी कमी है। भवन निर्माण जारी ही है। उपलब्ध सभी वर्ग कक्ष में खिड़की एवं दरवाजे में किवाड़ नहीं लगे हैं। प्रधानाचार्य ने बताया कि छात्रों के शुल्क एवं निजी कोष से भवन निर्माण एवं कॉलेज विकास का कार्य किया जा रहा है। कॉलेज में कई शिक्षक बाहर से पढ़ाने आते हैं। इसी कॉलेज से गणेश कुमार ने बिहार टॉपर बना है। प्रधानाचार्य के मुताबिक कॉलेज में सभी विषयों के कुल 18 शिक्षक हैं। जो साप्ताहिक समय सारिणी के मुताबिक पढ़ाते हैं। इनमें कुछ स्थानीय हैं जबकि शेष हाजीपुर, वैशाली, दरभंगा, समस्तीपुर आदि जगहों के हैं। कॉलेज भवन एक दूसरे से सटे दो भागों में निर्मित है। एक तरफ आठ कमरों के भवन हैं जिनमें चार कक्षा एवं दो कार्यालय हैं। कक्षा में छात्रों के बैठने के लिए बेंच, डेस्क, ब्लैक बोर्ड सभी आवश्यक सुविधा उपलब्ध है। दूसरी तरफ के भवन में कुल छह कमरे हैं जिसमें दो निर्माणाधीन हैं। और चार कमरों में प्रयोगशाला, लाइब्रेरी अवस्थित हैं। गणेश कुमार के विषयों के बारे में उन्होंने बताया कि उसने नामांकन में गृह विज्ञान लिखा दिया था। परन्तु फार्म भरने के दौरान उसमें सुधार कर दिया गया था। उसके विषय हिन्दी, मनोविज्ञान, संगीत, समाज शास्त्र, इतिहास, एनआरबी, अंग्रेजी आदि बताये गए। गणेश कुमार नियमित छात्र बताया गया जो बीच-बीच में कॉलेज में आकर पढ़ाई करता था। पढ़ने में वह मेहनती एवं तेज बताया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The lack of resources in the college of Arts Topper