DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Bihar: फुटपाथ पर रह अखबार बेच गुजारा करता है आर्टस टॉपर गणेश

Ganesh kumar

इंटर आर्टस की परीक्षा में टॉपर घोषित गणेश कुमार गुरुवार को अपने कॉलेज पहुंचा। उसके पहुंचने की खबर मिलते ही मीडिया कर्मियों की भीड़ जुट गयी। मीडिया कर्मियों से घिरे गणेश ने बताया कि 2009 में पिता के निधन के बाद से पूरे परिवार की जिम्मेवारी उसी पर है। वह मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का भरण-पोषण करता है।

उसने बताया रोजगार की तलाश में वह समस्तीपुर आया था। लेकिन कहीं काम नहीं मिला तो उसने अखबार बेचना शुरू किया। उसके पास इतना पैसा नहीं था कि वह किराया का मकान ले सके। इसके कारण वह स्टेशन और फुटपाथ पर ही रहकर गुजारा करता था। उसने बताया कि पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में उसके चाचा रहते थे, जिनका पिछले दिनों निधन हो गया था। रिजल्ट निकलने के पूर्व वह वहीं चला गया था। वहां से लौटने के दौरान उसे अपने रिजल्ट की जानकारी अखबार के माध्यम से हुई। जिससे घर जाने की बजाय वह सीधे समस्तीपुर आ गया। उसके पास कोई मोबाइल नहीं है। जिससे उसे पहले जानकारी नहीं मिली। उसने बताया कि फॉर्म भरते समय गलती से होम साइंस पर टिक लग गया था, जिसे बाद में सुधार करवा कर सोशल साइंस किया गया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The art's topper Ganesh is Selling Newspapers