DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोना लूटकांड सुलझाने का पुलिस का दावा

सोना लूटकांड सुलझाने का पुलिस का दावा

अमृतसर के स्वर्ण व्यवसायी बंधुओं से 35 लाख के सोना और नगद 90 हजार लूट मामले की पुलिस ने गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। हालांकि लूटे गये सामान की बरामदगी नाममात्र की ही बतायी है। मामले में पुलिस ने एक महिला सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर कोर्ट भेज दिया। पुलिस ने लूटकांड को अंजाम देने वाले गिरोह का पता लगाने का दावा किया है। गिरफ्तार लोगों में दो लूटकांड को अंजाम देने वालों में शामिल थे। अन्य दो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी जारी है। सदर डीएसपी ने अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में पत्रकारों को बताया कि गिरफ्तार किये गये लोगों में मास्टरमाइंड मुसरीघरारी निवासी अमरजीत झा व सोनू झा शामिल है। उन्होंने बताया कि मोनू झा और एक अन्य अपराधी फरार है।

उन्होंने बताया कि फरार आरोपित को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। डीएसपी ने बताया कि कांड के अनुसंधान के दौरान मास्टरमाइंड अमरजीत को गिरफ्तार किया गया। फिर उससे पूछताछ के बाद मुसरीघरारी के मारवाडीह निवासी विभा देवी के घर पर छापेमारी की। उसके घर से नगर 21 हजार रुपये के अलावा सोने के छोटे जेवरात मिले, जो लूट के थे। उन्होंने बताया कि लूट के बाद सभी अपराधी इसी महिला के घर रूके थे। उन्होंने बताया कि अमरजीत की ही निशानदेही पर मोरवा से लावारिस हालत में बरामद की गयी बाइक के मालिक मो. इशान को पकड़ा गया। उसके बाद दो भाई सोनू व राजन झा को पकड़ा गया। लूटकांड के खुलासे के लिए एसपी के आदेश पर एसआईटी बनायी गयी थी।

जिसमें सदर डीएसपी के अलावा मुफस्सिल थाना अध्यक्ष विक्रम आचार्य, मुसरीघरारी थाना अध्यक्ष विशाल कुमार, ताजपुर थाना अध्यक्ष विश्वजीत कुमार, सरायरंजन थाना अध्यक्ष संजीव कुमार चौधरी, दारोगा श्याम बिहार चौधरी शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Police claim to solve gold loot