DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीईओ कार्यालय में तालाबंदी, काम ठप

डीईओ कार्यालय में तालाबंदी, काम ठप

तीन महीने से वेतन नहीं मिलने से आक्रोशित डीईओ कार्यालय के कर्मचारियों ने मंगलवार को डीईओ कार्यालय में तालाबंदी कर दी। इससे दिनभर कार्यालय का कार्य ठप रहा। सभी कर्मचारी एक कमरे में दिनभर यूं ही बैठे रहे। इसके कारण सभी संचिकाओं का मूवमेंट भी बंद रहा। इधर, अपना कार्य कराने के लिए आये लोग डीईओ कार्यालय से बैरंग लौटते रहे। कर्मचारियों ने बताया कि वेतन भुगतान नहीं होने से उनकी आर्थिक स्थिति चरमरा गई है।

डीईओ को बार-बार भुगतान कराने का अनुरोध करते करते वे लोग अब थक गए हैं। डीईओ का निर्देश डीपीओ स्थापना मानने को तैयार नहीं हैं। ऐसे में कर्मचारियों के सामने आंदोलन करने के सिवाय कोई विकल्प ही नहीं बचा था। उन्होंने कहा कि मांगे पूरी होने तक तालाबंदी जारी रहेगी। उन्होंने बताया कि अपनी मांग को पूरा कराने के लिए डीईओ कार्यालय के सभी कर्मियों ने पिछले दिनों डीईओ व डीपीओ स्थापना का घेराव भी किया था जिसमें 26 मई तक बकाए वेतन भुगतान कर देने का आश्वासन डीईओ ने दिया था। डीएम को भी अनुरोध पत्र दिया जा चुका है। बावजूद इसके, अभी तक भुगतान नहीं किया गया है। एक कर्मचारी अस्पताल में भर्ती है। उसके बेहतर इलाज के लिए भी पैसे नहीं दिए जा रहे हैं।

उधर, कार्यालय बंद रहने की सूचना मिलने पर डीईओ सत्येन्द्र झा इन कर्मियों से वार्ता करने के बदले इस कार्यालय में नहीं जाकर काशीपुर स्थित शिक्षा भवन कार्यालय चले गए। उन्होंने बताया कि डीपीओ स्थापना में कैश बुक का पूरा प्रभार नहीं होने के कारण वेतन भुगतान में थोड़ा वक्त लग रहा है। जल्द ही बकाए वेतन का भुगतान करने की प्रक्रिया शुरू होगी। कर्मियों को थोड़ा इंतजार करना चाहिए। हड़ताल या तालाबंदी से समस्या का निदान नहीं होता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lockout in the DEO office, work stalled