DA Image
25 सितम्बर, 2020|1:44|IST

अगली स्टोरी

जानिए, क्या है समस्तीपुर से जुड़ीं प्ररण दा की यादें

जानिए, क्या है समस्तीपुर से जुड़ीं प्ररण दा की यादें

कोरोना संक्रमण का शिकार होने के बाद दिवंगत हुए पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने 2009 के लोकसभा चुनाव में समस्तीपुर के हाउसिंग मैदान में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित किया था। उस समय वे वित्त मंत्री के पद थे। हालांकि उस सभा को संबोधित करने के लिए राहुल गांधी को आना था, लेकिन अचानक तबीयत खराब हो जाने के कारण उन्होंने अपनी जगह प्रणव मुखर्जी को सभा संबोधित करने के लिए भेजा था। सभा को संबोधित करने के लिए उनके साथ दिल्ली की तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित व कांग्रेस नेता मुकुल वासनिक भी आये थे। उस सभा की अध्यक्षता कांग्रेस के तत्कालीन जिला अध्यक्ष रामकलेवर सिंह ने की थी। जबकि वर्तमान जिला अध्यक्ष अबू तमीम ने सभा की व्यवस्था की थी। दिल्ली से प्रणव मुखर्जी हेलीकॉप्टर से आये थे।

हाउसिंग के मैदान में ही हेलीकॉप्टर उतारने के लिए हेलीपैड बनाया गया था। युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष तरुण कुमार ने बताया कि हेलीकॉप्टर से उतरने के बाद उनकी ही गाड़ी से प्रणव मुखर्जी मंच तक गये थे। उन्होंने बताया कि पीछे की सीट पर शीला दीक्षित व मुकुल वासनिक और आगे की सीट पर प्रणव मुखर्जी बैठे थे और वे गाड़ी चला रहे थे। गाड़ी में प्रणव मुखर्जी ने तरुण कुमार को पूर्व केन्द्रीय मंत्री बालेश्वर राम से अपने संबंधों को याद करते हुए उनके पुत्र डॉ. अशोक कुमार को विजयी बनाने के लिए पूरा जोर लगाने को कहा था। तरुण कुमार ने बताया कि प्रणव दा ने उनसे कहा कि तुम युवा हो। तुममें ऊर्जा है। पूरा जोर लगाओ। तभी डॉ. अशोक कुमार की जीत होगी। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर राजद नेताओं ने भी शोक प्रकट किया है। विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन, पूर्व मंत्री रामाश्रय सहनी, पूर्व विधान पार्षद रोमा भारती, राजद जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सहनी, पूर्व जिलाध्यक्ष व सहकारिता बैंक के अध्यक्ष विनोद कुमार राय, जिला उपाध्यक्ष प्रो. राजेन्द्र भगत, जिला महासचिव ललन यादव, जिला राजद प्रवक्ता राकेश कुमार ठाकुर ने कहा कि प्रणव बाबू का निधन देश ही नहीं संपूर्ण विश्व की मानवता के लिए अपूरणीय क्षति है।

देश के लिए बड़ी क्षति

युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व रोसड़ा के विधायक डॉ. अशोक कुमार ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की मौत देश के लिये एक अपूरणीय क्षति है। वे देश की राजनीति के एक मजबूत धरोहर थे।

प्रपंच से थे कोसों दूर

कांग्रेस के जिला अध्यक्ष अबू तमीम ने कहा कि प्रणव मुखर्जी के निधन से एक शालीन राजनेता की कमी हो गयी है। वे राजनीति में रहने के बावजूद छल प्रपंच से दूर रहते थे और आदर्श की राजनीति करते थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Know what is the memories of Pran da associated with Samastipur