DA Image
21 अक्तूबर, 2020|7:21|IST

अगली स्टोरी

अनुदान की जगह नियत वेतनमान दें सरकार

default image

बिहार प्रदेश माध्यमिक शिक्षक व कर्मचारी महासंघ के समस्तीपुर इकाई की बैठक परशुराम उच्च विद्यालय नंदिनी में बसंत झा की अध्यक्षता में हुई। इसमें महासंघ के प्रांतीय संयोजक राजकिशोर प्रसाद साधु उपस्थित थे। परशुराम उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापिका नीरु कुमारी, कन्हैया चौधरी, बसंत झा, राममूर्ति झा, कौशल जी, अंजनी कुमार सुमन, अजीत कुमार, पवन सिंह, कुमोद कुमार, अखिलेश प्रताप सिंह, रामशंकर पांडे, रामकुमार ठाकुर, दिनेशनाथ ठाकुर आदि ने कहा कि 30-35 वर्षों से वित्त रहित माध्यमिक विद्यालय के लगभग 8500 शिक्षक एवं कर्मी सरकार से गुहार लगाते आ रहे हैं, लेकिन उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है। यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति ही है कि 35 वर्षों से शिक्षा देने के बावजूद सरकार मान्यता नहीं दे रही है। सरकार अनुदान मद में जितनी राशि खर्च करती है लगभग उतनी ही राशि से शिक्षक एवं कर्मियों को नियत वेतन दिया जा सकता है लेकिन सरकार के अड़ियल रवैए के कारण शिक्षक एवं उनका परिवार भुखमरी के कगार पर है। बैठक में अनुदान के बदले नियत वेतनमान के लिए चरणबद्ध आंदोलन करने का निर्णय लिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Government should give fixed pay scale instead of grant