DA Image
23 सितम्बर, 2020|1:16|IST

अगली स्टोरी

सरसों बुआई की तैयारी में जुटे हैं किसान

default image

हसनपुर के उपरी भूमि के किसानों ने गन्ना रोपाई एवं सरसों बुआई की तैयारी में जुटे हैं। निचली भूमि के किसान माथे पर हाथ रख कर बैठे हैं। क्योंकि उनके खेतों से पांच माह तक पानी हटने वाला नहीं है। बाढ़ पीड़ित सिरसिया गांव में पन्द्रह दिनों बाद खेतों की जुतायी हो पायेगी। बाढ़ की तबाही से उबरे सिरसिया के किसान मो. शाहिद बताते हैं कि फसलें डूब गयी। जिन खेतों में फसल लगी हुई है।

अब सूखने लगी हैं। कर्ज लेकर खेती करनी होगी। जलजमाव से त्रस्त किसान शम्भू राय, दीपक राय, सकरपुरा, भोला सिंह औरा, अरबिंद राय, रामपुर, अमन सिंह काले, विष्णुकांत महतो काले आदि बताते हैं कि सैकड़ों एकड़ में जलजमाव है। बीएओ पुरुषोत्तम बताते हैं कि पानी से खरीफ फसल की क्षति रिपोर्ट जिला को भेजी गयी है। जिस में 60 प्रतिशत धान, 34 प्रतिशत गन्ना की क्षति होने का अनुमान लगाया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers are preparing for mustard sowing