Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार समस्तीपुर45 वें स्थापना दिवस पर भी विकास को मोहताज है रोसड़ा

45 वें स्थापना दिवस पर भी विकास को मोहताज है रोसड़ा

हिन्दुस्तान टीम,समस्तीपुरNewswrap
Tue, 30 Nov 2021 10:30 PM
45 वें स्थापना दिवस पर भी विकास को मोहताज है रोसड़ा

रोसड़ा अनुमंडल आज अपना 45 वां स्थापना दिवस मना रहा है। बीते 45 साल में रोसड़ा ने कई इतिहास बनते और बिगड़ते देखा। रोसड़ा वासियों ने जिस विकास की उम्मीद लगा रखी थी, वह अब तक इनसे कोसों दूर है। 1 दिसम्बर 1976 को रोसड़ा अनुमंडल अस्तित्व में आया था। समय बीतने के साथ अनुमंडल वासियों ने कई सपने देखे। रोसड़ा वासियों ने रोसड़ा को जिला का दर्जा मिलने की उम्मीद लगा रखी थी, चुनाव होते रहे, आश्वासन मिलते रहे, सरकारें आती और जाती रही पर रोसड़ावासियों का जिला का सपना साकार नहीं हो सका। रोसड़ा जिला का दर्जा प्राप्त करने के सभी मानकों को पूरा करने को तैयार है। बाबजूद इसके रोसड़ा के साथ सौतेलेपन का व्यवहार अनुमंडलवासियों को सताता रहा है। राजनीतिक कुचक्र के कारण लोकसभा के मानचित्र से रोसड़ा को गायब कर दिया गया। दर्शन शास्त्र के महान विद्वान उदयनाचार्य, महाकवि आरसी, आचार्य सुरेन्द्र झा सुमन व वर्तमान में राष्ट्रीय स्तर के कवि व साहित्यकार डॉ. बुद्धिनाथ मिश्र की यह पावन धरती तकनीकी शिक्षा से वंचित है। यहां तक कि अंगीभूत यूआर कॉलेज में रेगुलर मोड में पीजी की पढ़ाई प्रारंभ नहीं होने का मलाल भी यहां के छात्रों को सता रहा है। शहर में लगने वाले जाम से निजात की मांग पर एक बाईपास की स्वीकृति तो दी गयी है, पर यह पर्याप्त नहीं है। दूसरे बाईपास, जो सागी से होकर वाया गोविंदपुर व मब्बी होते हुए डाकबंगला चौक से जोड़ने की आवश्यकता है तभी शहर को जाम से छुटकारा मिल सकता है। नगर पंचायत को प्रोन्नत कर नगर परिषद का दर्जा तो दे दिया गया है , पर नगर परिषद अभी तक पूर्ण रूप से कार्य रूप में नहीं आ पाई है। चिकित्सा के क्षेत्र में ही अनुमंडल का अपेक्षित विकास नहीं हो सका है। रेलवे लाइन का आमान परिवर्तन व प्लेटफॉर्म उंचीकरण का कार्य तो पूरा हुआ है। पर समस्तीपुर व खगड़िया वाया हसनपुर रेलखंड पर पर्याप्त सवारी गाड़ी नहीं दी गई है। अनुमंडल की आबादी साढ़े तेरह लाख से अधिक है। यह तकरीबन 2,15,12409 एकड़ में फैला है। रोसड़ा अनुमंडल छह प्रखंडों रोसड़ा, हसनपुर, सिंघिया, विभूतिपुर, शिवाजीनगर और बिथान में बंटा है।

स्थापना दिवस पर आयोजित होंगे कई कार्यक्रम

रोसड़ा । निज संवाददाता

रोसड़ा अनुमंडल के 45 वें स्थापना दिवस के अवसर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। मुख्य रूप से मद्य निषेध की थीम पर नुक्कड़ नाटक व प्रभातफेरी का आयोजन तथा रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया जाना है। इस बाबत एसडीओ ब्रजेश कुमार के द्वारा मंगलवार को सीडीपीओ विभा कुमारी, बीईओ, जीविका को बुलाकर एक बैठक आहूत की। सीडीपीओ तथा जीविका के अधिकारी को अनुमंडल मुख्यालय पर रंगोली प्रतियोगिता व मद्य निशेध के थीम पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन कराये जाने को आदेशित किया गया। वहीं बीईओ को सभी स्कूलों के प्रधान को सूचना देकर स्थापना दिवस के अवसर पर विद्यालयों में प्रभातफेरी निकाले जाने तथा स्कूली बच्चों के द्वारा लोगों में जागरूकता पैदा करने को मद्य निषेध पर आधारित नुक्कड़ नाटक कराये जाने का आदेश दिया गया।

epaper

संबंधित खबरें