DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › समस्तीपुर › प्रत्याशी समर्थकों ने किया पथराव, आधा दर्जन जख्मी
समस्तीपुर

प्रत्याशी समर्थकों ने किया पथराव, आधा दर्जन जख्मी

हिन्दुस्तान टीम,समस्तीपुरPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 07:31 PM
प्रत्याशी समर्थकों ने किया पथराव, आधा दर्जन जख्मी

समस्तीपुर। उजियारपुर प्रखंड के हरपुर रेवाड़ी पंचायत के मुखिया के चुनाव में पराजित महिला प्रत्याशी के समर्थकों ने जमकर बवाल किया। सभी मतगणना में हेराफेरी करने का आरोप लगा रहे थे। प्रत्याशी के समर्थकों ने मतगणना केन्द्र के बाहर ड्यूटी पर तैनात पुलिस व उनकी गाड़ी पर पथराव करने के साथ खदेड़ दिया। पथराव में चार पुलिस कर्मी समेत करीब आधा दर्जन लोग जख्मी हो गये। उपद्रवियों ने मतगणना केन्द्र के बाहर लगी दलसिंहसराय डीसीएलआर की गाड़ी के शीशे को भी चकनाचूर कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर डीएम शशांक शुभंकर व एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो पुलिस बल के साथ पहुंचे और स्थिति को नियंत्रित किया। डीएम ने कहा कि पराजित प्रत्याशी के समर्थकों ने मतगणना को बाधित करने के लिए पथराव किया। इसमें कुछ पुलिस कर्मी जख्मी हुए है। इस मामले में एसपी ने बताया कि पराजित प्रत्याशी के साथ ही चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि पथराव करने वाले अन्य उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार, रविवार रात ही हरपुर रेवाड़ी पंचायत की मतगणना पूरी हुई थी। उसी समय मुखिया प्रत्याशी इंदु कुमारी ने मतगणना में हेराफेरी का आरोप लगा हंगामा किया था। अधिक रात होने के कारण मतगणना बंद बंद करी दी गयी थी जिससे सभी रात में लौट गये। सोमवार को सरपंच पद की मतों की गिनती के दौरान प्रत्याशी और उनके समर्थक मतगणना केन्द्र पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया। वे मतों की फिर से गिनती करने की मांग कर रहे थे। जिसकी सुनवाई नहीं होने पर बाहर मौजूद समर्थकों ने दिन में करीब एक बजे के बाद हंगामा करने के साथ पुलिस पर पथराव कर दिया। उपद्रवियों ने पुलिस को खदेड़ा भी जिससे सभी मतगणना केन्द्र के अंदर चले गये। बाद में सभी पुलिस कर्मी एकजुट होकर बाहर निकले और मुखिया समर्थकों पर लाठी चटकानी शुरू कर दी। जिससे मतगणना केन्द्र के बाहर भगदड़ मच गयी। इस क्रम में कुछ स्थनीय लोगों को भी पुलिस की लाठी खानी पड़ी। सूचना पर पहुंचे डीएम व एसपी ने हालात का जायजा लेने के बाद पुलिस लाइन से अतिरिक्त पुलिस कर्मियों को बुलाया और मतगणना केन्द्र के बाहर तैनात किया।

अस्थायी दुकानों को पुलिस ने हटाया:

बवाल के बाद हरकत में आयी पुलिस ने मतगणना केन्द्र के बाहर सड़क किनारे अपने अपने घरों के पास लगायी गयी अस्थायी दुकानों को हटवा दिया। मतगणना को लेकर आसपास के लोगों ने अपने घर के पास इन दुकानों को लगा रखा था।

रविवार की घटना से नहीं ली थी सीख:

विदित हो कि मतगणना के दौरान रविवार को भी प्रत्याशियों के समर्थकों ने मतगणना में नहीं जाने देने पर बवाल करने के साथ पुलिस पर पत्थर चलाये थे। इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लेने के बाद बाद में छोड़ दिया गया था। अगर पुलिस उस घटना से सबक लेकर सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करती तो यह नौबत नहीं आती।

जख्मी हुए पुलिस कर्मी:

पथराव में जख्मी होने वाले पुलिस कर्मियों में राजेश मिश्रा, कुश कुमार, पीटीसी सिपाही कारी प्रसाद यादव और होमगार्ड का जवान मो. शमीमउद्दीन शामिल है। इसके अलावा अन्य दो लोगों को भी चोटें आयी। सभी इलाज के लिए आनन फानन में सदर अस्पताल भेजा गया।

संबंधित खबरें