Bathing people have to be cautious - स्नान करने वालों को रहना होगा सतर्क DA Image
15 दिसंबर, 2019|1:37|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्नान करने वालों को रहना होगा सतर्क

default image

कार्तिक पूर्णिमा पर बूढ़ी गंडक में डुबकी लगाने के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को अपनी सुरक्षा स्वयं करनी होगी। प्रशासन की तरफ से घाट पर न तो बैरिकेडिग की गयी है और न ही खतरे की चेतावनी वाले बोर्ड ही लगाये गये हैं। विदित हो कि शहर से गुजरने वाली बूढ़ी गंडक के मगरदहीघाट, नीमगली घाट, खांटू श्याम मंदिर घाट समेत अन्य घाटों पर कार्तिक स्नान के लिए श्रद्धालु जुटते हैं। लेकिन इन स्थानों पर सोमवार को देर शाम तक किसी तरह की सुरक्षा की व्यवस्था नहीं की गयी थी। हालांकि घाट के पास के लोगों ने बताया कि वार्ड पार्षदों ने सुबह में अपने स्तर से सफाई का काम कराया है।

इस संबंध में पूछे जाने पर सदर एसडीओ एके मंउल ने बताया कि घाटों पर सुरक्षा के लिए दंडाधिकारी के नेतृत्व में पुलिस बल की तैनाती की गयी है। घाटों की खतरनाक स्थिति के बारे में पूछे जाने पर कहा कि मगरदही घाट पर कुछ खतरे की स्थिति है जहां बैरिकेडिंग करायी जाएगी। लेकिन देर शाम तक बैरिकेडिग काकाम शुरू नहीं हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bathing people have to be cautious