An increase in the water level of the old Gandak river - बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी जारी DA Image
12 नबम्बर, 2019|10:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी जारी

बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी जारी है। नदी के जलस्तर में अगर लगातार बढ़ोतरी होती रही तो तटबंध के निचले इलाके में बसे लोगों के घरों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर जाएगा। वहीं बूढ़ी गंडक के जलस्तर में बढ़ोतरी होने से भागीरथपुर, बासुदेवपुर, बिरसिंहपुर, गोपालपुर, बालापुर, रामपुरा, लदौरा, मिल्की, मोहनपुर, सोमनाहा, मनियारपुर, सिमरी आदि जगहों के किसानों के खेतों में लगे हल्दी, गोभी, बैंगन, करैला, परवल, जनेरा सहित अन्य फसलें बर्बाद हो गई है। किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा है। वहीं बूढ़ी गंडक के कनीय अभियंता शैलेश कुमार सिंह ने कहा कि बुढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में 12 घंटे में 7 सेंटीमीटर पानी की बढ़ोतरी हुई है।

बाढ़ आने की अभी कोई संभावना नहीं है। खतरा के निशान से जलस्तर काफी नीचे हैं। वैसे उन्होंने बूढ़ी गंडक नदी के तटबंध के माधोपुर भुवाल में निरीक्षण के उपरांत कहा कि रामपुरा, रमौली, मिल्की, सोमनाहा, मनियारपुर, माधोपुर तटबंध पर स्लूईस गेट की देखरेख को लेकर निजी कर्मी की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है। अगर स्लूईस गेट से रिसाव होता है तो प्लास्टिक के बोरे में मिट्टी डालकर उसे ठीक कर देना और अगर तटबंध से रिसाव होने पर पहले प्लास्टिक रखकर बोरे में मिट्टी डालकर रख देने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि तटबंध और स्लूईस गेट दुरुस्त है। दोनों की लगातार निगरानी की जा रही है। खतरा की कोई बात नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:An increase in the water level of the old Gandak river