DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › सहरसा › ट्रेन परिचालन बाधित होने से बचा, धराया केबल चोर
सहरसा

ट्रेन परिचालन बाधित होने से बचा, धराया केबल चोर

हिन्दुस्तान टीम,सहरसाPublished By: Newswrap
Tue, 26 Jan 2021 03:24 AM
ट्रेन परिचालन बाधित होने से बचा, धराया केबल चोर

सहरसा | निज प्रतिनिधि

सहरसा-सुपौल रेलखंड में ट्रेन परिचालन बाधित होने से बच गया। रविवार की देर रात 12.10 बजे ट्रेन सर्किट फेल होने के बाद सिग्नल केबल कटने की बात पकड़ में आई।

एक घंटे तक नया केबल जोड़कर रेलखंड को ट्रेन परिचालन के लायक रात डेढ़ से ढाई बजे के बीच बनाया गया। चोरी के सिग्नल केबल के साथ सुपौल के एक युवक को धर दबोचा गया। घटना की सूचना पर सहरसा से सदल बल सुपौल गए आरपीएफ इंस्पेक्टर सारनाथ ने बताया कि सुपौल स्टेशन यार्ड में तैनात आरक्षी ने केबल सिग्नल चोरी की सूचना दी। आरपीएफ के आरक्षी रामप्रवेश ठाकुर ने जानकारी दी कि रात साढ़े बजे सिग्नल कर्मी पिंटू कुमार ने सिग्नल केबल चोरी का मेमो दिया। सिग्नल कर्मी के साथ जाकर देखा तो गढ़ बरुआरी और थरबिटिया स्टेशन साइड में सिग्नल केबल कटा मिला। थरबिटिया स्टेशन साइड में पहुंचने पर टॉर्च की रौशनी में देखा कि एक युवक दाएं कंधे पर केबल जैसा बंडल लेकर स्टार्टर सिग्नल होकर जा रहा है। सिग्नल कर्मी की मदद से उसे रात दो बजे धर दबोचा। पूछताछ में उसने अपना नाम अनिल कुमार पिता कपिलदेव शर्मा बताया। घर सुपौल जिले के इस्लामपुर वार्ड दस निवासी बताया। आरपीएफ इंस्पेक्टर ने कहा कि पूछताछ में अनिल ने चोरी किए हुए केबल सिग्नल को जलाकर किसी फेरी वाले को बेच देने की बात कहीं। उसके पास से केबल काटने वाला उपकरण रिंच, आरी पत्ती आदि बरामद किया गया। 32 से 33 मीटर छोटे बड़े सिग्नल केबल के नौ टुकड़े मिले। जिसकी कीमत दो हजार रुपए होगी। उन्होंने कहा कि गिरफ्त में लिए गए सिग्नल केबल चोर पर रेलवे अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। जांच का भार उप निरीक्षक एम. एम. रहमान को दिया गया है।

रात भर परेशान रहे रेल अधिकारी और आरपीएफ : केबल सिग्नल कटने से रात भर रेल अधिकारी और आरपीएफ परेशान रहे। परेशानी की वजह यह थी कि सोमवार की सुबह में सहरसा से सुपौल तरफ ट्रेन जाने वाली थी। इस कारण जहां सिग्नल विभाग ने नया सिग्नल केबल लगाने का काम तेजी से किया गया। वहीं आरपीएफ ने भी जानकारी मिलते एक्शन लिया।

संबंधित खबरें