DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाजवादी पुरोधा थे भूपेन्द्र मंडल

समाजवादी पुरोधा थे भूपेन्द्र मंडल

बाबू भूपेन्द्र नारायण मंडल समाजवाद के पुरोधा थे। वे जीवनपर्यन्त समाजवाद के लिए लड़ते रहे। शहर के बनवारी शंकर महाविद्यालय में भूपेन्द्र नारायण मंडल की 42वीं पुण्यतिथि पर भूपेन्द्र नारायण मंडल विचार मंच द्वारा आयोजित कार्यक्रम को पूर्व प्रति कुलपति डा.के.के.मंडल ने उद्घाटन करते कहा कि भूपेन्द्र बाबू हमेशा गरीब गुरबों की सेवा में लगे रहे।

उन्होंने कहा कि सांसद व विधायक बनने के बाद भी वे सदा जनप्रतिनिधि की तरह समाजसेवा से ही जुड़े रहे। बिहार में समाजवाद लाना उनका सपना था। उनके विचार महान थे। वे लोहिया के बेहद करीबी थे और उनकी रूचि सत्ता को लेकर नही बल्कि सामाजिक न्याय के लिए जन आंदोलन चालने में सदैव रही। कार्यक्रम में उपस्थित अन्य वक्ताओं ने कहा कि उन्होंने वकालत छोड़ देश की आजादी के लिए भारत छोड़ो आंदोलन में दूद कर अंग्रेजों से लोहा लेने के लिए कई बार यातनाएं सही।

समारोह में आगत अतिथियों ने भूपेन्द्र नारायण मंडल के चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर श्रद्वासुमन अर्पित की। प्रो.भारती झा के स्वागत गान, पूर्व प्राचार्य प्रो.श्यामल किशोर यादव की अध्यक्षता एवं डा.आलोक कुमार के मंच संचालन में हुए समारोह को पूर्व विधायक परमेश्वरी प्र.निराला, जिप अध्यक्ष अरहुल देवी, पूर्व कुलसचिव सचिन्द्र महतो, पूर्व प्राचार्य कमलेश्वरी प्र.यादव, इंटर संकाय प्राचार्य प्रो.हरिनारायण यादव, डिग्री संकाय प्राचार्य डा.योगेन्द्र कुमार, कृत्यानंद यादव, नागेश्वर यादव, डा.मोईजउद्दीन, रामकृष्ण यादव, प्रो. दिलीप कुमार मिश्रा, वेद प्रकाश झा, प्रो.गीता यादव, प्रो.ललन कुमार लोकेश, डा.अरूण कमार खां, प्रो.रणजीत प्र.सिंह, प्रो.अरिवन्द कुमार झा, प्रो.सुरेन्द्र यादव, ई.महेन्द्र ना.यादव, परमेश्वरी प्र.यादव, ई.संतोष कुमार, प्रो. शंकर कुमार, आनंद कुमार, संजय कुमार गुप्ता, बालकिशोर झा, अशोक पोद्वार,राजेन्द्र यादव, शंकर भगत, चंद्रशेखर, जयप्रकाश झा, वार्ड पार्षद अरूण कुमार निराला सहित अन्य ने संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The socialist leader was Bhupendra Mandal