DA Image
23 अक्तूबर, 2020|7:53|IST

अगली स्टोरी

सोनवर्षा: बहियारों में फैलने लगा पानी

सोनवर्षा: बहियारों में फैलने लगा पानी

लगातार हो रही बारिश के कारण क्षेत्र की दोनों प्रमुख नदियां तिलाबे व सुरसर फिर से उफान पर है। जिससे क्षेत्र के बहियारों मे पानी फैल रहा है। पानी के फैलने से क्षेत्र के लोग दुबारा बाढ को लेकर आशंकित हंै।हाल यह है कि चारों तरफ़ बाढ जैसा नजारा दिख रहा है। बाढ़ के कारण क्षेत्र के किसानों के धान की फसल डूबने से बर्बाद हो गई है। अब बचे फसलों पर भी खतरा मंडराने लगा है। वहीं क्षेत्र के पशु पालकों को भी पशु चारे की गंभीर समस्या महीनों से बनी हुई है। और फिर से नदियां उफान से समस्या गंभीर रूप ले रहा है।

जबकि नदियों के उफान के बाद हो रही बारिश के कारण नदी के किनारे मोहनपुर सहित अन्य गांव में कटाव का खतरा बढ़ गया है। सुरसर नदी के कटाव के कटाव से जहां बड़गांव उच्च विद्यालय के खेल मैदान पर खतरा बढ़ गया है। देहद पंचायत के मोहनपुर गांव के दर्जनों घरों पर कटाव होने का खतरा बना हुआ है। जबकि क्षेत्र में पानी फैलने के कारण कई गांव सहित टोला में आवागमन की गंभीर समस्या उत्पन्न हो जाती है। जगह जगह जलजमाव की भी समस्या गहरा जाता है। जिससे लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है। क्षेत्र के विभिन्न बहियारोंं में बाढ के पानी फैलने से किसान काफी चिंतित है कि पानी की वजह रवि फसल में बिलंब हो जाएगा।

कभी भी कुंदह स्कूल का कमरा समा सकता पानी में

महिषी। प्रखण्ड के कुंदह गांव के निकट पानी के उतार चढ़ाव से जहां एकओर आंगनबाड़ी एवं सीएसपी केंद्र के कटने की आशंका लोगों के दिलों में समाया हुआ है वहीं दूसरी ओर शनिवार की रात से कुंदह मिडिल स्कूल पर नदी का दबाव बनने से स्कूल के दो कमरों के भी नदी में विलीन होने का डर समाया हुआ है।

जानकारी के अनुसार कुंदह गांव से सटे उत्तर विगत कुछ दिनों से कोसी नदी में कटाव लगा है, जिससे मदरसा सहित एक दर्जन से अधिक घर कोसी में समा गया है। इस सम्बंध में सरपंच हीरालाल, पंसस नूरजहां, दीपक दास, धीरेंद्र दास, उपमुखिया महेश्वर दास, उपसरपंच हरदेव मुखिया, अर्चना देवी, गीता देवी, शमी अहमद ने बताया कि यदि शीघ्र कटावरोधी कार्य नहीं कराया गया, तो गांव स्थित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 93 संकट आ सकता है।

ज्ञात हो कि विगत वर्षों से कोसी के प्रकोप इस स्कूल को झेलना पड़ रहा है। दो कमरों का घर पूर्व में ही नदी में समा चुका है। फिलहाल दो कमरों के एक भवन का एक कमरे का पूर्वी दीवार भी विगत वर्ष कोसी के हवाले हो गया है। स्कूल के हेडमास्टर सुुुरेश कुमार ने बताया कि कटनियां को देखते कमरे का सामान खाली कर दिया गया है। साथ ही सम्बन्धित विभाग से आवश्यक कार्रवाई की मांग की गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sonavarsha Water started spreading in the Bahias