DA Image
27 सितम्बर, 2020|8:00|IST

अगली स्टोरी

आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने में सहरसा जिला 22वें स्थान पर

आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने में सहरसा जिला 22वें स्थान पर

केन्द्र सरकार की प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना का लाभ देने में राज्य के 38 जिले में सहरसा 22 वें स्थान पर है। लाभ देने के मामले में सहरसा को मधेपुरा जिला ने पछाड़ दिया है।

राहत की बात यह कि सहरसा की स्थिति सुपौल और खगड़िया जिला से अच्छी है। सहरसा जिले में 1567 परिवार को आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिला है। वहीं 23 वें स्थान पर रहने वाले कोसी प्रमंडल के सुपौल जिले में 1551 और 19 वें स्थान वाले मधेपुरा में 1907 परिवार को योजना का लाभ दिया गया है। सीमावर्ती खगड़िया जिला 31 वें स्थान पर आया है और यहां 1160 परिवार को आयुष्मान योजना का लाभ मिला है।

कोसी और सीमांचल में पूर्णिया जिला अव्वल: आयुष्मान भारत योजना का लाभ देने में कोसी और सीमांचल में पूर्णिया जिला अव्वल है। नौंवे स्थान वाले पूर्णिया जिले में 3036 और 15 वें स्थान वाले कटिहार जिला में 2252 परिवार को आयुष्मान भारत योजना का लाभ दिया गया है। कोसी प्रमंडल के जिले से खराब परफॉर्मेंस वाला जिला अररिया और किशनगंज है। 33 वें स्थान वाले अररिया में सिर्फ 959 और किशनगंज में 1524 परिवारों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ दिया गया है।

क्लेम भुगतान में सहरसा सुपौल से आगे : आयुष्मान भारत योजना के तहत हुए इलाज का क्लेम भुगतान करने में सहरसा सुपौल जिले से आगे है। अठारवें स्थान वाले सहरसा में 1094, 21 वें स्थान वाले सुपौल में 931 और 14 वें स्थान वाले मधेपुरा में 1279 परिवार के क्लेम का भुगतान किया गया है। पूर्णिया में 1717, कटिहार में 1189, किशनगंज में 1114, अररिया में 661 और खगड़िया में 704 क्लेम का भुगतान किया गया है।

सहरसा में सिर्फ 47 हजार 468 लाभार्थी को मिला गोल्डन कार्ड : सहरसा जिले में 12 लाख 73 हजार 552 लाभार्थियों के विरुद्ध अबतक सिर्फ 47 हजार 468 लाभार्थियों का ही गोल्डन कार्ड बना है। इसे गंभीरता से लेते हुए डीएम डॉ. शैलजा शर्मा ने क्रियान्वयन की धीमी गति में तेजी लाने का निर्देश दिया है। बता दें कि 23 सितंबर 2018 को शुरू हुई इस योजना में प्रति परिवार पांच लाख रुपए का मुफ्त इलाज कराने की सुविधा चिन्हित अस्पतालों में है।

14 नवंबर से कहरा और सिमरी बख्तियारपुर में बनेगा गोल्डन कार्ड 14 नवंबर से सहरसा जिले के कहरा और सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड के पंचायतों में आयुष्मान भारत का गोल्डन कार्ड बनेगा। जिलाधिकारी कहरा प्रखंड के बनगांव दक्षिणी पंचायत से अभियान का शुभारंभ करेगी। मौके पर सिविल सर्जन डॉ. ललन कुमार सिंह, डीपीएम राहुल कुमार, क्लस्टर कॉर्डिनेटर सुधांशु शेखर, आईएसए के जिला को-आर्डिनेटर सुभाष सिंह, ग्रीवांस ऑफिसर राहुल सिंह,सीएसई कॉर्डिनेटर रूपेश कुमार रहेंगे। बनगांव दक्षिण के ललित झा बंगला और वीआईपी टोला में 14, 15 और 16 नवंबर को कैम्प लगा गोल्डन कार्ड बनाया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Saharsa district ranked 22nd in giving benefits of Ayushman Bharat scheme