DA Image
30 नवंबर, 2020|6:44|IST

अगली स्टोरी

मानक के विपरीत बन रही आरसीडी की सड़कें

मानक के विपरीत बन रही आरसीडी की सड़कें

पथ निर्माण विभाग की सड़कों के निर्माण में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की जा रही है। दो अधिकारियों पर कार्रवाई के बाद भी विभाग द्वारा कार्य की देखरेख में लापरवाही बरती जा रही है। अब नया मामला शहर के कचहरी ढ़ाला से शिवपुरी बायपास तक बनने वाले सड़क में आया है।

निर्माण कार्य में संलग्न संवेदक द्वारा बड़े पैमाने पर छड़ों को बांधने से लेकर पीसीसी में गड़बड़ी की जा रही है। छड़ लगभग एक फीट की दूरी पर बांधा जा रहा है जबकि कहीं पीसीसी किया जा रहा है तो कहीं वैसे ही छोड़ दिया जा रहा है। लोगों की शिकायत के बाद भी ठीक करने के बजाय अधिकारी पहुंचकर उनपर ही धौंस दिखाना अपना कार्य समझते हैं। स्थानीय कुमार ठाकुर, रितेश सिंह, अबू बकर, अशरफ अली सहित अन्य ने बताया कि नाला निर्माण में बड़े पैमाने पर अनियमितता बरती जा रही है। सोमवार को नाला की ढ़लाई के दौरान भी संवेदक को ठीक ढंग काम करने को कहा गया था। लोगों ने बताया कि मंगलवार की सुबह दुकान खोलने पहुंचने पर देखा कि पंचमुखी शिवमंदिर के सामने नाला में चार फीट छड़ निकला हुआ है। मजदूर व कारीगरों द्वारा प्लास्टर किया जा रहा था। इस संबंध में अधिकारियों को शिकायत की गई लेकिन उसने झिड़क दिया। इतना ही 2 करोड़ 95 लाख की लागत से बन रहे सड़क व नाला में किसी भी मानक का पालन नहीं किया जा रहा है। नाला में छड़ लगभग एक फीट की दूरी पर बांधा जा रहा है। जब इसकी शिकायत की गई तो कहा गया कि यही मानक पथ निर्माण विभाग द्वारा निर्धारित है।

मंगलवार की दोपहर पथ निर्माण विभाग के सहायक अभियंता को इसकी जानकारी दी गई। उसके सहायक अभियंता मौके पर पहुंचकर मामले को देखा। सहायक अभियंता ने आकर मामले को देखने के बाद छड़ खुलवाया और छह इंच की दूरी पर बांधने का निर्देश दिया। सहायक अभियंता ने भी माना कि परोक्ष में कुछ गड़बड़ी हुई उसे ठीक किया जा रहा है।

सहायक अभियंता एस एस दास ने कहा कि नाला निर्माण में किसी प्रकार की गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मानक के अनुसार काम करने का निर्देश दिया गया है। आगे से गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई होगी।

पथ निर्माण विभाग की सड़कों पर भी उठ रहा सवाल: पथ निर्माण विभाग के अधीन आने वाली सड़कों के निर्माण में पहले भी गड़बड़ी हो चुकी है। एनएच 107 के छूटे भाग में गड़बड़ी मिलने के बाद दो-दो अधिकारियों पर कार्रवाई की गाज गिर चुकी है। बावजूद इसके विभाग द्वारा सड़क निर्माण की न तो सही ढंग से मॉनीटरिंग की जा रही है और न ही गड़बड़ी करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। जबकि जिले में अभी कई सड़कों का काम चल रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:RCD roads becoming contrary to standard