DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व प्रभारी प्राचार्य पर कार्रवाई के खिलाफ बैठे अनशन पर

पूर्व प्रभारी प्राचार्य पर कार्रवाई के खिलाफ बैठे अनशन पर

आरएम कालेज के पूर्व प्रभारी प्राचार्य डॉ आरबी झा को जबरन अवकाश पर भेजे जाने के फैसले के खिलाफ छात्र संगठनों का विरोध जारी है। विभिन्न कालेजों में तालाबंदी के बाद बुधवार को संयुक्त छात्र संघ के बैनर तले सात छात्रों ने फैसले को तुगलकी फरमान बताते हुए आमरण अनशन पर बैठ गए। आरएम कालेज के मुख्य दरवाजे पर बैठे अनशनकारी सागर कुमार नन्हें, पार्थ झा, अमित कन्हैया, दीपक राज, गौरव बंटी, जंयत जोशी, गौरव ठाकुर ने कहा कि जबरन अवकाश के फैसले को वापस लेने और विवाद की जड़ में बीएड नामांकन में की गई गड़बड़ी की आयुक्त से जांच की मांग को लेकर अनशन जारी रहेगा।

अनशनकारियों के समर्थन में भाजयुमो जिलाध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह सिद्धू, फ्रेंड्स आफ आनंद के राष्ट्रीय महासचिव राजन आनंद, एनएसयूआई के पूर्व जिलाध्यक्ष सुदीप कुमार सुमन सहित सुजीत सान्याल, मुरारी मंयक, रोशन कुवंर, विवेक सिंह, सत्यम आनंद, सुनील यादव, रतन दूबे, विकास मिश्र, ईश्वर कात्यायन, अक्षय आनंद, आशीष आनंद, शंकर कुमार, अभिषेक कुमार, अमित पाठक, अमित आनंद, शशिकांत भारद्वाज, खुशी भारद्वाज, राहुल बनगांव, चिंटू पांडेय, विवेक, गोलु, प्रणव, राहुल, नीरज झा, सोनु झा, आलोक कश्यप, विभु चित्रांश, हिमाशुं झा, आदर्श सिंह, सागर पंडित, आंचल सिंह, पुजा कुमारी, अनुप्रिया, अर्चना कुमारी, प्रिया राय, आकृति, सिमरन, शालनी भी मौजूद रहे। शाम में सदर एसडीओ शंभूनाथ झा ने अनशन स्थल पहुंच छात्रों से वार्ता की। लेकिन छात्र मांगों की पूर्ति होने तक अनशन करने पर अड़े रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pre-charge on fasting against action on the principal