Piling to keep rail track safe - रेल ट्रैक सुरक्षित रखने के लिए पाइलिंग DA Image
14 नबम्बर, 2019|2:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेल ट्रैक सुरक्षित रखने के लिए पाइलिंग

कोसी की लाइफलाइन सहरसा-मानसी रेलखंड को सुरक्षित रखने के लिए संवेदनशील बिंदु को मजबूती प्रदान करने का काम किया जा रहा है। वर्ष 2007 में फनगो हाल्ट पास जहां नदी के दवाब से ट्रेन परिचालन बंद होने की नौबत बन आई थी वहां साल बल्ला पाइलिंग कार्य किया जा रहा है।

साल बल्ला पाइलिंग कार्य के तहत बैंक को सपोर्ट करने के लिए पांच-पांच मीटर का लंबा सखुआ गाड़ा जा रहा है। सीनियर सेक्शन इंजीनियर (रेलपथ) राकेश कुमार की मॉनिटरिंग में बंद पुराना पुल संख्या-46 पास रेल ट्रैक के बगल में 14.3 से 14.7 किलोमीटर तक साल बल्ला पाइलिंग का कार्य चल रहा है। अधिकारी के अनुसार 400 मीटर में सौ मीटर का कार्य पूरा कर लिया गया है। शेष 300 मीटर में कार्य पूरा करने में दो दर्जन मजदूर लगे हुए हैं। साल बल्ला पाइलिंग कार्य से वर्षों से बंद पुल नंबर-46 पास नदी की पानी की तेज धारा बाढ़ बरसात के दौरान नहीं रुकेगी और ट्रैक पर पानी का दवाब नहीं बनेगा। जिससे भविष्य में परेशानी नहीं होगी।

एक रैक बोल्डर स्टॉक किया गया : समस्तीपुर मंडल के सीनियर डीईएन कोर्डिनेशन अनिल प्रकाश और सीनियर डीईएन थ्री मयंक अग्रवाल के निर्देश पर फनगो हॉल्ट के पास एक रैक बोल्डर स्टॉक कर रखा गया है। बाढ़ बरसात के दौरान कटाव की नौबत आने पर इसे सुरक्षात्मक कार्य के लिए उपयोग में लाया जाएगा। बता दें कि सहरसा-मानसी रेलखंड पर बाढ़ बरसात के दौरान करीब से गुजर रही नदी की पानी के दवाब से ट्रेन परिचालन बंद होने की नौबत बन आती है। इसे देखते समस्तीपुर मंडल प्रशासन एहतियातन तमाम उपाय कर रही है।

समस्तीपुर मंडल के सीनियर डीईएन कोर्डिनेशन और सीनियर डीईएन थ्री के निर्देश पर स्थल पर दिन रात वाचमैन संवेदनशील बिंदु और पुल की निगरानी कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Piling to keep rail track safe