DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक सप्ताह के अंदर दो हत्या से पतरघट में दहशत

एक सप्ताह के अंदर दो हत्या से पतरघट में दहशत

पतरघट पुलिस को एक हत्या की उदभदन में सफलता हाथ लगी नहीं कि दूसरी हत्या की घटना से लोगों में आक्रोश बढ़ने लगा है। एक सप्ताह के अंदर दो लोगों को गोली मारकर हत्या किये जाने से लोगों के बीच भय का माहौल बना हुआ है। सुबह घर से निकले लोग शाम को सही सलामत घर पहुंचने पर अपने को सुरक्षित महसूस करते हैं। बीते 9 मई की रात करीब 9 बजे पतरघट लक्ष्मीपुर बासा टोला समीप मधेपुरा निवासी टेम्पो चालक गजेन्द्र यादव के सीने में बदमाशों ने गोलीमार हत्या कर दी।

पुलिस को उस घटना में संलिप्त बदमाशों की पहचान करने में सफलता मिली नहीं कि ठीक अगले गुरुवार की रात जम्हरा भद्दी दुर्गापुर मुख्य मार्ग स्थित भद्दी तीखा मोड़ पोखर के समीप इंजीनियरिंग के दिव्यांग छात्र राहुल कुमार (23 वर्ष) की गोली मार हत्या कर दी गयी। शुक्रवार की सुबह सड़क पर औंधे मुंह पड़े छात्र के शव देख राहगीर सहित स्थानीय लोग सकते में आ गए। पतरघट पुलिस पहुंच कर उसके पास पॉकेट में रखें समार्टफोन आधार कार्ड और पुस्तकालय पत्रक परिचय पत्र से पहचान किया।

पहचान होने के बाद पुलिस इस इलाके में मृतक राहुल के संबंध होने की छानबीन जुटा हैं। मृतक राहुल के घर सूचना मिलते ही शिक्षिका मां मीरा कुमारी अपने परिजनों के साथ ओपी पर पहुंची। मां ने कहा कि पुत्र राहुल से गुरुवार की रात 9 बजे मोबाइल पर बात हुई थी। एक वर्ष के उम्र में राहुल को पोलियो मारने से बाया पैर से दिव्यांग हुआ था। दो लड़का में राहुल छोटा था। मां का रो-रोकर बुरा हाल हैं। मधेपुरा डेरा में राहुल के साथ रह रहे उनका छोटा ममेरा भाई मिथुन कुमार ने बताया कि राहुल 7 बजे शाम में निकला था।

9 बजे एक लड़का के साथ अपनी बाइक से डेरा आया और हेलमेट तथा कार्ड लेकर बगैर कुछ बोले निकल गया। शुक्रवार को दिव्यांग इंजीनियरिंग का छात्र राहुल का शव पतरघट के भद्दी में मिला। पुलिस का कहना है कि राहुल की हत्या प्रेम प्रसंग में होने की अधिक संभावना है। हालांकि सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In one week there is panic in Patarghat with two murders