Crisis on the existence of many villages - कई गांवों के अस्तित्व पर संकट DA Image
15 नबम्बर, 2019|11:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई गांवों के अस्तित्व पर संकट

कई गांवों के अस्तित्व पर संकट

प्रखंड क्षेत्र स्थित तिलाबे व सुरसर नदी के कछार से विभिन्न पंचायतों में दिनदहाड़े अवैध रूप से मिट्टी व बालू कटाई का कारोबार जारी है। जिस पर विभाग सहित स्थानीय अंचल प्रशासन द्वारा रोक लगाने में पूरी तरह विफल साबित हो रहा है। ग्रामीण सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार सोनवर्षा प्रखंड क्षेत्र अन्तर्गत तिलाबे नदी के मनौरी घाट, लगमा, सोनवर्षा व सुरसर नदी के झिटकिया घाट, मोहनपुर घाट, मैना घाट सहित सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडल क्षेत्र की तरफ से भी तिलाबे नदी के कछार व अन्य विभिन्न जगहों से नदी के कछार से अवैध रूप से मिट्टी खनन बेरोकटोक जारी है।

लेकिन खनन विभाग सहित स्थानीय अंचल प्रशासन बेखबर बना है। नदी के कछार से मिट्टी व बालू खनन कर अन्य जगहों पर मिट्टी भराई किया जाता है। इस तरह क्षेत्र के विभिन्न सरकारी व निजी जमीन में से अवैध खनन विभागीय आदेशों की धज्जियां उड़ा कर सरकार को लाखों का राजस्व का चूना लगाया जा रहा है। सरकार द्वारा संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजना संचालित होने के कारण मिट्टी व लोकल बालू का मांंग में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हुई है। जिस कारण क्षेत्र के दोनों नदी के कछार से कटाई कर उंची कीमत लेकर बेचा जा रहा है। खुलेआम हो रहे खनन को लेकर सरकारी आदेश से बेखबर खनन विभाग सोया हुआ है।

बन रहे बड़े बड़े गड्ढे: अवैध रूप से हो रहे दोनों नदी के कछार से खनन के कारण बडे़ बड़े गढ्ढे बनते जा रहे हैं। जिस वजह से बारिश व बाढ़ के समय नदी के पानी का बाहर फैलने का खतरा मंडराने लगता है। पानी फैलने से ग्रामीण क्षेत्रों में नदी के किनारे डूबने की आशंका हर वक्त बनी रहती है। अवैध खनन के कारण नदी भी अपनी रूख बदल लेती है और कटाव जारी रहता है। नदी में हो रहे कटाव के कारण कई गावों पर इसका खतरा मंडरा रहा है। स्थिति अगर यही रही तो नदी के कछार पर बसे गांव का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा।

कहते हैं पदाधिकारी: इस संबंध में अंचलाधिकारी सोनवर्षा उपेन्द्र कुमार तिवारी का कहना है कि संबंधित राजस्व कर्मचारी से जांच करवाई जा रही है। जांच में सही पाये जाने पर अवैध मिट्टी कटाई पर रोक लगाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Crisis on the existence of many villages