DA Image
6 मार्च, 2021|8:01|IST

अगली स्टोरी

मूल्यांकन कार्य में जाने से रोका, प्रशासन ने खदेड़ा

मूल्यांकन कार्य में जाने से रोका, प्रशासन ने खदेड़ा

रमेश झा महिला कालेज में चल रहे इंटरमीडिएट कापी मूल्यांकन कार्य का विरोध करने पहुंचे शिक्षकों पर प्रशासन ने सख्त रूख अपनाते हुए केंद्र से दूर खदेड़ा। रमेश झा महिला कालेज व आरएम कालेज में बुधवार से इंटरमीडिएट की कॉपी का मूल्यांकन कार्य शुरू हुआ है।

जिसकाा दूसरे दिन भी संबंधन प्राप्त महाविद्यालय के शिक्षकों द्वारा बहिष्कार किया गया। इसी दौरान संबंधन प्राप्त महाविद्यालय के शिक्षकों ने दोनों केंद्रों पर मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करते हुए अन्य सहयोगियों को भी मूल्यांकन केंद्र में प्रवेश करने से रोका जिसकी जानकारी मिलने पर सदर एसडीओ शंभूनाथ झा, जिला शिक्षा पदाधिकारी जयशंकर प्रसाद ठाकुर, सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी, सदर थाना अध्यक्ष राजमणि सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल महिला कालेज पहुंचे और मूल्यांकन कार्य का विरोध कर रहे शिक्षकों को समझाया। शिक्षकों ने छह सूत्री मांगों को लेकर विरोध करने की बात कही।समझाने के बाद भी जब शिक्षक नहीं मानें तो प्रशासन की ओर से सख्ती दिखाते हुए के केंद्र से बाहर व आसपास जमा शिक्षकों को खदेड़ दिया। सदर एसडीओ ने बताया कि मल्यांकन कार्य में बाधा पहुंचाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी।केंद्र के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इधर संगठन संयोजक शीलानंद सिंह ने कहा कि वित्त रहित संयुक्त संघर्ष मोर्चा के प्रदेश के आह्वान पर जिले के संबंधन प्राप्त महाविद्यालय के शिक्षकों द्वारा अपनी छह सूत्री मांगों को लेकर इंटरमीडिएट कॉपी मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार किया गया है।

आज से होगी कार्रवाई: इंटरमीडिएट कॉपी मूल्यांकन कार्य के लिए योगदान के बाद कॉपी मूल्यांकन से बहिष्कार करने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई की की जाएगी। जानकारी देते जिला शिक्षा पदाधिकारी जयशंकर प्रसाद ठाकुर ने बताया कि जिला मुख्यालय स्थित दोनों मूल्यांकन केंद्र पर इंटरमीडिएट के सभी विषयों के कॉपियों का मूल्यांकन कार्य दूसरे दिन जारी है। अधिकांश शिक्षकों ने योगदान के बाद कॉपी मूल्यांकन का कार्य शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि रमेश झा महिला महाविद्यालय में 107 शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। जिनमें 36 शिक्षक मूल्यांकन कार्य कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि राजेंद्र मिश्र महाविद्यालय मूल्यांकन केंद्र पर 262 शिक्षकों को कॉपी मूल्यांकन के लिए प्रतिनियुक्त किया गया था। जिनमें 175 ने योगदान दिया है। जबकि 82 शिक्षक कॉपी मूल्यांकन का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि योगदान के बाद कॉपी मूल्यांकन कार्य नहीं करने वाले शिक्षकों पर शुक्रवार को विभागीय कार्रवाई की जाएगी। बाधा उत्पन्न करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा एवं उनके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई शुरू की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Administration stopped to go to assessment work administration repulsed