DA Image
Friday, December 3, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार पूर्णियाजुगाड़ से जल रही निगम क्षेत्र की स्ट्रीट लाइट

जुगाड़ से जल रही निगम क्षेत्र की स्ट्रीट लाइट

हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 03:50 AM
जुगाड़ से जल रही निगम क्षेत्र की स्ट्रीट लाइट

पूर्णिया। हिन्दुस्तान संवाददाता

शहर में लगी स्ट्रीट लाइट को दुरुस्त करने का दावा भले ही निगम द्वारा किया जा रहा है, लेकिन जमीनी हकीकत ये है कि पोल में लगे ज्यादातर लाइट की स्विच खराब हो चुकी है। लोग जुगाड़ टेक्नोलॉजी के जरिये लाइट जला और बुझा रहे हैं। इस चक्कर में कई बार लोगों को बिजली का झटका भी सहना पड़ता है। शहर के अधिकतर लाइटों का स्विच खराब हो चुका है। दोनों को शाम में लोग सटा देते हैं जिससे लाइट जल जाती है। सुबह में लोग उस दोनों तार को हटा देते हैं। महीनों से यही प्रक्रिया चल रही है। रिजवान मस्जिद रोड में ज्यादातर लाइट की स्विच महीनों पहले खराब हो चुकी है। इसके अलावा लाइन बाजार कब्रिस्तार रोड की स्ट्रीट लाइट का भी यही हाल है। हर जगह तार जो जोड़ और हटा रहे हैं। तीन पहले पहले रिजवान मस्जिद रोड में लाइट का तार जोड़ते समय एक आदमी को करंट लग गया था। इससे पहले भी कई लोग इस तरह के काम में बिजली का झटका खा चुके हैं। साहिल अख्तर कहते हैं कि उनके घर के सामने लगे पोल का स्विच छह महीने से खराब है।

कई मोहल्ले में लाइट लगना है बाकी

वार्ड नंबर चार के निवर्तमान वार्ड पार्षद मो. सोहेल उर्फ मुन्ना कहते हैं कि उनके वार्ड में बरमसिया आदिवासी टोला, मिरजा हाता, रहमत नगर मुसहरी टोला और पीरबाबा स्थान के पास अभी तक लाइट नहीं लगाया गया है। इसके कारण लोगों को परेशानी हो रही है। वार्ड के महत्वपूर्ण डीएवी चौक के पास भी एक दर्जन से अधिक पोल पर एलईडी लाइट नहीं लगी है।

स्ट्रीट लाइट संबंधी शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर पर करें फोन

स्ट्रीट लाइट में एलईडी लाइट लगाने वाली कंपनी के अभिषेक कुमार कहते हैं कि कंपनी ने टोल फ्री नंबर 18001803580 जारी किया है। इस नंबर पर कभी फोन कर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। जिसे 48 घंटे के अंदर दुरुसत किया जाता है। उन्होंने बताया कि पहले उनकी छह टीम टीम निगम में लाइट को दुरुस्त करने के लिए काम कर रही थी जिसे दिवाली को देखते हुए बढा कर आठ कर दिया गया है। निगम के विद्युत विभाग के प्रभारी उमेश यादव कहते हैं कि ईईएसएल की आठ टीम और नगर निगम की तीन टीम बिजली को ठीक करने के लिए काम कर रही है। एक टीम हर दिन करीब डेढ दर्जन शिकायतों पर काम करती है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें