DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › पूर्णिया › प्रमडंलीय आयुक्त को रिपोर्ट, अब होगी कार्रवाई
पूर्णिया

प्रमडंलीय आयुक्त को रिपोर्ट, अब होगी कार्रवाई

हिन्दुस्तान टीम,पूर्णियाPublished By: Newswrap
Mon, 02 Aug 2021 04:31 AM
प्रमडंलीय आयुक्त को रिपोर्ट, अब होगी कार्रवाई

पूर्णिया। वरीय संवाददाता

सीमांचल के मेडिकल हब कहे जाने वाले पूर्णिया में प्राइवेट डॉक्टर, पैथोलॉजी, अल्ट्रासाउंड सेंटर से लेकर मेडिकल स्टोर पर कार्रवाई का शिकंजा कस गया है। डॉक्टर बाबू से लेकर जांच घरों और दवा दुकानदारों की मनमानी पर प्रमंडलीय आयुक्त की सख्ती का असर दिखने लगा है। जिला पदाधिकारी द्वारा प्रखंड, अनुमंडल और जिला स्तर पर जांच के लिए 19 टीमें गठित की गयी थी। जांच टीमों के द्वारा शनिवार को जांच के अलावा छापेमारी की गयी। डेढ़ दर्जन से अधिक स्थानों पर जांच की गयी है। प्रशासनिक कार्रवाई के बाद प्रखंड से लेकर जिला तक हड़कंप मच गया। नियमों का पालन नहीं करने वाले दुकान बंद कर भागने लगे। कुछ फर्जी डॉक्टरों ने भी बोरिया बिस्तरा बांधना शुरू कर दिया है। फर्जी लैब और जांच केंद्र में भी ताले लटक सकते हैं। जांच टीम के द्वारा जिलाधिकारी को शनिवार को रिपोर्ट सौंप दी गयी है। जिला प्रशासन के द्वारा सोमवार को इसकी रिपोर्ट संकलित कर प्रमंडलीय आयुक्त को सौंपी पायी जाएगी। इसके बाद कार्रवाई का डंडा चल सकता है।

...यह है मामला

पूर्णिया जिला अंतर्गत निजी क्लीनिक, एक्सरे, पैथोलॉजी, अल्ट्रासाउंड सेंटरों और दवा दुकानों में रोगियों के इलाज, जांच और दवा के लिए ली जा रही राशि एवं चिकित्सकों के द्वारा कंसल्टेंट फीस, आपरेशन फीस का कैश मेमो अथवा मनी प्राप्ति रसीद मरीज या व्यक्तियों से राशि लेने के बाद नहीं दी जाती है। यह किसी भी दृष्टिकोण से उचित नहीं है। ऐसी स्थिति में कतिपय संस्थानों व व्यक्तियों के द्वारा सरकारी राजस्व की चोरी भी की जा रही है।

...यह है आदेश

पूर्णिया जिला में निजी क्लीनिक, एक्सरे, पैथोलॉजी, अल्ट्रासाउंड सेंटरों और दवा दुकानों की प्रत्येक सप्ताह प्रखंड वार, अनुमंडल वार एवं जिला स्तर पर गहन जांच की जाएगी। प्रखंड से लेकर जिला तक इसकी जांच के लिए टीम गठित की गयी है। डीएम ने टीम के द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में जांच के बाद प्रत्येक सप्ताह शनिवार को पांच बजे तक रिपोर्ट सौंपने के लिए भी कहा है। प्रमंडलीय आयुक्त के द्वारा कोसी और पूर्णिया प्रमंडल के सातों जिलों के लिए यह आदेश जारी किया गया है।

...हिन्दुस्तान ने किया था खुलासा

पूर्णिया जिला में निजी डॉक्टरों के अलावा एक्सरे, पैथोलॉजी, अल्ट्रासाउंड सेंटरों और दवा दुकानदारों को मरीजों या व्यक्तियों को रसीद देनी होगी। अभी तक पुर्जी में ही डॉक्टर से लेकर दवा दुकानदारों का हिसाब-किताब रहता है। आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने प्रमंडलीय आयुक्त के हवाले से 24 अगस्त के अंक में इस संबंध में समाचार प्रकाशित किया गया था। प्रमंडलीय आयुक्त के फरमान के बाद पूर्णिया जिला प्रशासन हरकत में आ गया है। प्रमंडलीय आयुक्त ने पूर्णिया के अलावा सहरसा प्रमंडल के सभी जिलों के जिला पदाधिकारी और सिविल सर्जन को इस संबंध में पत्र लिखा है।

संबंधित खबरें