DA Image
26 जनवरी, 2020|11:19|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीपालय का लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश.

default image

अल्पावास गृह दीपालय का लाइसेंस रद्द किया जा सकता है। जांच टीम ने लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश की है। बेलौरी से दीपालय को आने वाले दिनों में शिफ्ट भी किया जाएगा। जांच टीम के द्वारा जिलाधिकारी को रिपोर्ट बुधवार रात ही सौंप दी गयी थी। जांच रिपोर्ट के आधार पर लाइसेंस रद्द करने के लिए सरकार को प्रतिवेदन भेजा जाएगा। जिलाधिकारी पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि अल्पावास गृह में काफी खामियां पायी गयी है, जिसका प्रतिवेदन जल्द ही सरकार को भेजा जाएगा।

आईसीडीएस के अंतर्गत आने वाले अल्पावास गृह (दीपालय मानसिक स्वास्थ्य एवं दिव्यांग पुनर्वास संस्थान) में कई तरह की खामियां पायी गयी हैं। सरकार के गाइडलाइन के मुताबिक यहां काम नहीं हो रहा था। खाने, पीने, रहने से लेकर सुरक्षा व्यवस्था में भी खामियों की बात सामने आयी है। कर्मचारियों से मारपीट के भी आरोप लगे हैं। बता दें अल्पावास गृह में अनियमितता की शिकायत जिलाधिकारी राहुल कुमार व पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा से की गयी थी। इसके बाद मंगलवार को लगातार छह घंटे तक अल्पावास गृह में जांच की गयी थी। अल्पावास गृह से शिकायत मिलने के बाद जिलाधिकारी राहुल कुमार व पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा खुद मंगलवार को वहां पहुंचे थे। प्रशिक्षु आईएएस प्रतिभा रानी, वरीय उप समाहर्ता मोना झा, एसडीओ सदर विनोद कुमार, एसडीपीओ आनंद पांडेय, आईसीडीएस डीपीओ शोभा सिन्हा भी जांच टीम में शामिल थी। अल्पावास में जांच के दौरान कई तरह की खामियां पायी गयी हैं। गाइडलाइन के मुताबिक अल्पावास का संचालन नहीं हो रहा था। अल्पावास गृह में मारपीट के साथ मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने की बात भी जांच में सामने आयी है। अल्पावास गृह में रहने वाली सभी महिलाओं के बयान लिये गये हैं। वीडियोग्राफी भी करवायी गयी। उनका मेडिकल भी कराया गया है। अल्पावास गृह के कर्मियों से भी पूछताछ की गयी है। जानकारी के मुताबिक यह अल्पावास 2009 से ही दीपालय नामक एनजीओ के द्वारा चलाया जा रहा है। एनजीओ का लाइसेंस हर साल रिन्युअल होता था। फिलहाल एनजीओ के पास 31 मार्च तक का अनुबंध है। जानकारी के मुताबिक दीपालय में 30 महिलाएं रह रही हैं। उनके साथ पांच बच्चे भी हैं। नियमानुसार यहां 18 साल से अधिक उम्र की महिलाएं ही रहती हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Recommendation of canceling the license of Deepalaya