Pro Wave of mourning with the sudden demise of BN Pandey - प्रो. बीएन पांडेय के आकस्मिक निधन से शोक की लहर. DA Image
17 फरवरी, 2020|6:50|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रो. बीएन पांडेय के आकस्मिक निधन से शोक की लहर.

default image

अखिल भारतीय कुलपति तथा शिक्षाविद् संगठन के महासचिव प्रो. बीएन पांडे के आकस्मिक निधन पर संगठन के कार्यकारणी अध्यक्ष सह पूर्णिया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राजेश सिंह और एआईएवीसीए के सदस्य प्रो. एसएस सारंगदेवत सहित कई अन्य पदाधिकारियों ने शोक व्यक्त किया है। प्रो. राजेश सिंह ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि डॉ. पांडेय न सिर्फ प्रखर विद्वान थे बल्कि सच्चे समाज सुधारक तथा कला प्रेमी भी थे। उनके निधन से शिक्षा जगत को अपूर्णिय क्षति हुई है। विश्वविद्यालय छात्र कल्याण पदाधिकारी प्रो. पवन कुमार झा तथा कुलानुशासक प्रो. डीके झा ने कहा कि वे सहज प्रकृति के मिलनसार तथा सच्चे शिक्षाप्रेमी थे। उनके आकस्मिक निधन के बाद पूर्णिया विश्वविद्यालय के विकास में उनका मार्गदर्शन अब नहीं मिला पायेगा। कुलसचिव, उप-कुलसचिव, डीन साईंस, डीन मानविकी, डीन वाणिज्य, सीसीडीसी ने भी शोक व्यक्त किया है। साथ ही परिजनों के धैर्य तथा साहस को बनाये रखने हेतु ईश्वर से प्रार्थना की है। पूर्णिया विश्वविद्यालय के साथ पूर्णिया के कई शिक्षा प्रेमियों ने भी डॉ. पांडेय के निधन को शिक्षा जगत के लिए गहरा आघात बताया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Pro Wave of mourning with the sudden demise of BN Pandey